Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: भारतयी टीम में सिंक्सर किंग के नाम से मशहूर पूर्व खिलाड़ी युवराज सिंह का कहना है कि 2019 में जब विश्व कप के लिए टीम का चेयन किया गया था तब मुझे धोनी ने पहले की बता दिया था कि मेरा टीम में चयन नहीं होगा। क्योंकि चेयनकर्ता  मेरे नाम पर विचार ही नहीं करने वाले थे। बता दें, युवी ने पिछले साल जून के महीने में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया था। 

PunjabKesari
दरअसल, एक चैनल से बातचीत के दौरान युवी ने कहा, 'जब मैंने वापसी की तो विराट कोहली ने मेरा समर्थन किया। अगर उन्होंने मेरा तब समर्थन नहीं दिया होता तो मैं वापसी नहीं कर पाता। लेकिन वो धौनी थे जिन्होंने 2019 विश्व कप को लेकर मुझे सही तस्वीर दिखाई कि अब चयनकर्ता तुम्हारे बारे में विचार नहीं कर रहे हैं। उन्होंने सही तस्वीर दिखाई और बिल्कुल साफ कर दिया कि उन्होंने सबकुछ किया जो वह कर सकते थे।'

PunjabKesari
यवुी ने आगे कहा, '2011 विश्व कप तक एमएस को मेरे उपर पूरा भरोसा हुआ करता था और मुझे कहा करते थे आप मेरे मुख्य खिलाड़ी हैं। लेकिन बीमारी के बाद वापसी करने पर खेल काफी बदल चुका था और टीम में काफी कुछ हो चुका था। इसी वजह से जहां तक 2015 विश्व कप का सवाल है तो आप किसी चीज पर बात नहीं कर सकते इसलिए यह अपने आप से फैसला लेने की बात हो गई थी।' 'मुझे समझ आया कि एक कप्तान के तौर पर कभी कभी आप सारी चीजों का जवाब नहीं दे पाते हैं क्योंकि आखिर में आपको अपने देश का प्रदर्शन पर ध्यान देना होता है।'  

युवराज सिंह क्रिकेट करियर ...
PunjabKesari
गौरतलब है कि  युवराज के क्रिकट करियर में नजर डालें तो उन्होंने 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी20I मैच खेले। 304 वनडे में से युवराज ने भारत के लिए 301, जबकि बाकी 3 वनडे एशिया XI के लिए खेले। 40 टेस्ट की 62 पारियों में युवी के नाम कुल 1900 रन हैं, जिसमें 3 शतक और 11 हाफ सेंचुरी उनके नाम हैं।वनके वनडे करियर की बात करें तो युवराज ने 278 पारियों में कुल 8701 रन अपने नाम किए। इस दौरान उनके बल्ले से 14 शतक और 52 अर्धशतक निकले। 58 टी20I में 1177 रन बनाने वाले युवराज ने नाम यहां 8 हाफ सेंचुरी दर्ज हैं। उन्होंने टेस्ट में कुल 9, वनडे में 111 और टी20I में 28 विकेट अपने नाम किए हैं।

 

 

 

.
.
.
.
.