Sports

मोहाली : मैथ्यू वेड का मानना ​​है कि भारतीय परिस्थितियों में बल्लेबाज अच्छी गेंदों पर भी बाउंड्री लगा सकते हैं और भारत के खिलाफ पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय में 209 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए आस्ट्रेलिया की जीत में इसने भूमिका निभाई। 

सलामी बल्लेबाज कैमरन ग्रीन की 30 गेंद में 61 रन की पारी के बाद अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज वेड ने 21 गेंद में नाबाद 45 रन की पारी खेली जिससे ऑस्ट्रेलिया ने मंगलवार रात आसानी से लक्ष्य हासिल कर लिया। अंतिम चार ओवर में आस्ट्रेलिया को 55 रन की जरूरत थी लेकिन वेड ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए टीम की जीत सुनिश्चित की। 

फिनिशर के रूप में अपनी भूमिका के बारे में बात करते हुए 34 वर्षीय वेड ने कहा कि अनुभव ने उन्हें काफी समझदार बना दिया है और वह अब आक्रामक शॉट खेलने में जल्दबाजी नहीं करते। वेड ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘रन रेट आपके खेलने के तरीके को निर्धारित करता है। भारत में हम जैसे मैदानों में खेलते हैं, आप गेंद को जमीन पर खेलकर भी बाउंड्री लगा सकते हैं जो गेंदबाजों पर बहुत दबाव डालता है।' 

उन्होंने कहा, ‘उन्होंने मुझे कुछ यॉर्कर फेंकी और मैं उन पर बाउंड्री लगाने में सफल रहा। यह आपको क्रीज पर शांत रखता है।' वेड ने कहा कि विकेट को देखते हुए उन्हें जीत का भरोसा था। उन्होंने कहा, ‘जिस तरह से हमने आज खेल दिखाया और शुरुआत में तेजी से रन बनाए उसने अंत में हमें मैच जीतने के लिए हर मौका दिया। सभी खिलाड़ी जो क्रीज पर उतरे उनका इरादा वास्तव में अच्छा था, यहां तक ​​​​कि (जोश) इंग्लिस की पारी छोटी थी लेकिन उसने पारी की लय बनाए रखी।' 

बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा, ‘यह एक अच्छा विकेट था और थोड़ी ओस थी। आउटफील्ड भी अच्छी थी। बड़े स्कोर का पीछा करने का तरीका खोजने के लिए हमारी बल्लेबाजी में बहुत गहराई है।' ग्रीन ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पहली बार पारी का आगाज किया और मैच विजयी पारी खेली जिसके लिए वेड ने इस आलराउंडर की प्रशंसा की। 

उन्होंने कहा, ‘जब भी मैं उसे खेलते हुए देखता हूं वह हर बार मुझे प्रभावित करता है। उसे कुछ साल पहले पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया में देखा था। वह एक गेंदबाज था जिसने नौवें नंबर पर बल्लेबाजी की थी। वह अब जहां है उसे वहां देखकर यह काफी उल्लेखनीय लगता है। कोच और कप्तान को लगता है कि टी20 क्रिकेट में पैर जमाने के लिए यह उसका सर्वश्रेष्ठ स्थान है।' 
 

.
.
.
.
.