Sports

नॉर्वे ( निकलेश जैन ) मेगनस कार्लसन नें जिस अंदाज में लिजेंड्स ऑफ चैस का खिताब जीता है पूरी दुनिया में उनकी चर्चा इस बात को लेकर हो रही है की शायद मौजूदा समय में दूसरा कोई खिलाड़ी उनके आस पास भी नहीं है पर ऐसे समय में भी कार्लसन अपने खेल में सुधार की गुंजाइश देखते है और यही बात उन्हे बेहद खास बनाती है ।

खिताब  जीतने के बाद उन्होने चेस 24 से बातचीत करते हुए कहा की "यह बेशक परिणाम शानदार है, लेकिन हमेशा काम करने के लिए चीजें होती हैं और अब जो ग्रांड फाइनल आ रहा है वहाँ मुझे और कठिन प्रतिद्वंदीयों का सामना करना होगा  इसलिए मुझे भी और सुधार करने की जरूरत है"

दरअसल कार्लसन का इशारा वह इसी टूर का सुपर फाइनल खेलने को लेकर था जहां उनके सामने प्ले ऑफ मे होंगे चीन के डिंग लीरेन जबकि अमेरिका के हिकारु नाकामुरा रूस के डेनियल डुबोव से खेलेंगे 

PunjabKesari

18 अप्रैल से शुरू हुये मेगनस कार्लसन शतरंज टूर अब अपने अंतिम पड़ाव पर पहुँच गया है । चार माह और 2 दिन मे पूरे होने वाले इस टूर नें इस कोरोना काल मे भी शतरंज को जारी रखने और सीखने समझने का भरपूर मौका दुनिया भर के लोगो को दिया और खेल को एक नयी पहचान भी हासिल हुई । मेगनस कार्लसन नें इस टूर के सबसे ज्यादा खिताब हासिल किए ।

1 मिलियन डॉलर के इस टूर का अंतिम पड़ाव अब 9 अगस्त से शुरू होने जा रहा है और इसमें टूर के सबसे बेहतरीन खिलाड़ी नॉर्वे के मेगनस कार्लसन, चीन के  डिंग लीरेन, रूस के डेनियल डुबोव और अमेरिका के हिकारु नाकामुरा खेलते नजर आएंगे । इस ग्रांड फाइनल में कुल 3लाख डॉलर की पुरूष्कार राशि होगी ।

.
.
.
.
.