Sports

लंदन : फ्रांस की एलीजे कॉर्नेट ने लगातार 37 मैच जीत चुकी इगा स्वियाटेक को हराकर विम्बलडन 2022 के चौथे दौर में प्रवेश किया। कॉर्नेट ने विश्व की नंबर एक स्वियाटेक को शनिवार को हुए मुकाबले में 6-4, 6-2 से हराकर पोलैंड की खिलाड़ी के विजय-रथ पर लगाम लगाई। इससे पहले स्वियाटेक 135 दिनों में 37 मुकाबले जीतकर 1997 में माटिर्न हिंगिस के 37 मैच जीतने के रिकॉडर् की बराबरी कर चुकी थीं। 

कॉर्नेट ने जीत के बाद कहा, 'इगा के खिलाफ यह मैच जीतना मेरे लिए गर्व की बात है। उन्होंने इस साल जो किया है वह इस दुनिया से बाहर का प्रदर्शन है। मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि मैंने उनके इस सिलसिले को तोड़ा है। यह आश्चर्यजनक है। मैं दूसरे सप्ताह में फिर से प्रवेश करके बहुत खुश हूं।' कॉर्नेट ने स्वियाटेक के पावर गेम का सामना करने के लिए साफ, अनुभवी प्रदर्शन दिखाया। दो शुरुआती ब्रेक की बदौलत कॉर्नेट ने 3-0 की बढ़त बना ली। 

स्वियाटेक ने लंबे चौथे गेम में कॉर्नेट को पछाड़ कर मैच में वापसी करने का प्रयास किया, लेकिन कॉर्नेट ने 51 मिनट के शुरुआती सेट में केवल पांच अप्रत्याशित त्रुटियां कीं, जबकि स्वियाटेक ने 17 गलतियों से यह सेट गंवा दिया। दूसरे सेट में स्वियाटेक ने मजबूत शुरुआत के साथ 2-0 की बढ़त हासिल की, लेकिन अपनी त्रुटियों पर लगाम न लगा पाने के कारण उन्होंने जल्द ही कॉर्नेट को भी दो पॉइंट दे दिए, जहां से फ्रेंच खिलाड़ी सेट और मैच को स्वियाटेक की पकड़ से दूर ले गईं। 

93 मिनट चले मैच में कॉर्नेट ने सिर्फ सात अप्रत्याशित गलतियां कीं, जबकि स्वियाटेक 33 गलतियां करके मैच को 6-2, 6-4 से गंवा बैठीं। स्वियाटेक ने हार के बाद कहा, 'मैं अक्सर अपने ऊपर बहुत कठोर रहती हूं। मैं जानती हूं कि यहां अभ्यास करते हुए और मैच से पहले मुझे कैसा महसूस हो रहा था। यह कह सकते हैं कि मैं अपनी सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में नहीं थी, तो मुझे पता था कि ऐसा कुछ हो सकता है।' उन्होंने कहा, 'मैंने ग्रास कोर्ट पर बेहतर महसूस करने के लिए कई प्रयास किए। कुछ भी कारगर नहीं हुआ, इसलिए मैंने अपने आप पर सख्ती नहीं की, क्योंकि अगर मैं अभ्यास में लय हासिल नहीं कर सकी तो मैच में भी नहीं ढूंढ सकती थी।' 

.
.
.
.
.