Sports

नई दिल्ली : विशाखापत्तनम के मैदान पर भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले गए पहले टेस्ट में भारतीय सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने शानदार शतक लगाकर सबका दिल जीत लिया। रोहित का शतक देखकर टीम इंडिया के पूर्व ओपनर वसीम जाफर भी खुश हैं। उन्होंने रोहित को टेस्ट क्रिकेट में जमने के कुछ टिप्स देते हुए कहा कि उन्हें सेट होने में 30 से 40 गेंदें लगेंगी। हालांकि इस प्रारूप में गेंदबाज गेंद को ऊपर की ओर फेंकते हैं ताकि बल्लेबाज जोखिम भरा शॉट खेलें, लेकिन रोहित को शुरुआत में फील्ड के अनुसार संभलकर खेलना होगा।

Sports

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2008 में आखिरी टेस्ट मैच खेलने वाले जाफर ने कहा कि टेस्ट क्रिकेट में रोहित से ओपनिंग कराने का प्रयोग शानदार है। वह अहम बल्लेबाज साबित होंगे। रोहित के लिए इस फॉर्मेट में सबसे बड़ा मंत्र धैर्य होगा। उन्होंने कहा कि रोहित को गेंद की लाइन में आकर सीधे बल्ले से खेलने की जरूरत है। अभ्यास मैच में रोहित के आउट होने के तरीके के बारे में जाफर ने कहा कि रोहित को शरीर से दूर की गेंद को खेलने की आदत है जिससे करीबी फील्डरों को उन्हें कैच आउट करने का मौका मिल जाता है। मगर रोहित को गलतियों से सीखने का अनुभव है।

Wasim Jaffer happy to see Rohit's century, these tips given for long future

जाफर ने रोहित के बारे में अहम बात का खुलासा करते हुए कहा कि अब उनके बाद जरूरी अनुशासन आ गया है जो इससे पहले नहीं था। जाफर ने इंटरव्यू के दौरान कहा कि मेरे करियर के शुरुआती दिनों में मुझे महान सुनील गावस्कर ने सलाह दी थी कि मुझे पारी की शुरुआत में आधा घंटा गेंदबाज को देना चाहिए, उसके बाद के पांच घंटे बल्लेबाज के लिए होते हैं।

.
.
.
.
.