Sports

वेलिंगटन: मैदान पर उनकी शख्सियत में भले ही जमीन आसमान का फर्क हो लेकिन स्वभाव में अंतर के बावजूद केन विलियमसन और विराट कोहली एक दूसरे के मुरीद हैं। आक्रामक कोहली और शांतचित्त विलियमसन मैदान के भीतर और बाहर एक दूसरे के प्रशंसक हैं। कोहली ने बुधवार को भारतीय उच्चायुक्त द्वारा आयोजित डिनर में कहा, ‘यदि मुझे नंबर एक का स्थान बांटना पड़े तो मैं न्यूजीलैंड के साथ बांटना चाहूंगा।' 

PunjabKesari
दरअसल, मैच से पहले केन ने कहा, ‘हर टीम हमें हराना चाहती है लेकिन ऐसी कोई प्रतिद्वंद्विता नहीं है और यही वजह है कि मैं मैच के बीच में विलियमसन के साथ बैठकर क्रिकेट पर नहीं बल्कि जीवन पर बात कर रहा था।' विलियमसन ओर कोहली हाल ही में एक टी20 मैच के दौरान सीमारेखा के पास बैठकर एक दूसरे से बात कर रहे थे। विलियमसन ने कहा, ‘हमने कई विषयों पर बात की और खूब मजा आया । खेल के बारे में हमारे विचार मिलते जुलते हैं।'  

PunjabKesari
विलियमशन ने आगे उन्होंने कहा, ‘हमारा तरीका अलग है लेकिन एक ऐसे कप्तान की सोच जानना प्रेरणास्पद था जो अपने प्रतिस्पर्धी रवैये के साथ अगुवाई करता है।' विलियमसन और कोहली अंडर 19 दौर से एक दूसरे के खिलाफ खेल रहे हैं। जूनियर विश्व कप 2008 में भी सेमीफाइनल में वे एक दूसरे के सामने थे जो कोहली की टीम ने जीता। इसके 11 साल बाद सीनियर विश्व कप सेमीफाइनल में जीत विलियमसन के नाम रही। विलियमसन ने कहा, ‘मैं हमेशा से विराट का कायल रहा हूं जिसने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में नए कीर्तिमान स्थापित किये हैं।' 

.
.
.
.
.