Sports

कोलकाता: हनुमा विहारी को इंडियन प्रीमियर लीग में कोई खरीदार नहीं मिला लेकिन भारतीय टेस्ट टीम का यह सदस्य अब उस बात को पीछे छोड़कर आगामी न्यूजीलैंड दौरे पर खेली जाने वाली टेस्ट श्रृंखला में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए जमकर पसीना बहा रहा है। पिछली बार दिल्ली कैपिटल्स ने इस खिलाड़ी के लिए दो करोड़ रुपए खर्च किए थे लेकिन फ्रेंचाइजी से रिलीज किए जाने के बाद उन्होंने खुद को 50 लाख रुपये के वर्ग में रखा था। किसी भी फ्रेंचाइजी ने हालांकि उनके लिए दिलचस्पी नहीं दिखाई। 

PunjabKesari
यहां बंगाल के खिलाफ रणजी मैच के बाद उन्होंने दिए साक्षात्कार में कहा, ‘यह मेरे नियंत्रण में नहीं है और मैं इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देना चाहता हूं। मेरा काम मैच खेलना और जीतना है। मैंने राज्य की टीम के लिए सीमित ओवरों के प्रारूप में अच्छा प्रदर्शन किया है। इसलिए जब भी मुझे मौका मिलेगा मैं भारतीय टीम के लिए भी अच्छा प्रदर्शन करुंगा।' विहारी के नाम टी20 में चार अर्धशतक है जबकि उनका स्ट्राइक रेट 112 के आस-पास है। वह अब न्यूजीलैंड दौरे पर भारत ए टीम की कप्तानी करेंगे। 

PunjabKesari
छब्बीस साल के इस खिलाड़ी ने कहा, ‘मैं न्यूजीलैंड दौरे की तैयारी कर रहा हूं। मुझे वहा इंडिया ए के लिए दो मैच और फिर टेस्ट श्रृंखला (फरवरी-मार्च में भारतीय टीम का दौरा) में खेलना है। यह हमारे लिए काफी अहम श्रृंखला होगी क्योंकि इसके बाद हमारा अगला टेस्ट दौरा आस्ट्रेलिया के खिलाफ होगा। मैं ए टीम का नेतृत्व करने को लेकर उत्साहित हूं।' विहारी ने इससे पहले पिछले साल नवंबर में अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में भारत ए टीम के साथ न्यूजीलैंड का दौरा किया था और उन्हें वहां की परिस्थितियों के बारे में पता है। उन्होंने पहले अनधिकृत टेस्ट की दोनों पारियों में अर्धशतक (86 और नाबाद 51) लगाया था। 
 

.
.
.
.
.