Sports

लंदन : इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) का ‘द हंड्रेड’ टूर्नामेंट जब अगले साल आयोजित किया जाएगा तो पुरूष क्रिकेटरों के वेतन में 20 प्रतिशत की कटौती की जाएगी जबकि महिला क्रिकेटरों का वेतन प्रभावित नहीं होगा।
ईसीबी को कोविड-19 महामारी के कारण टूर्नामेंट के शुरूआती चरण को टालने के लि बाध्य होना पड़ा तथा पुरूष और महिला खिलाडिय़ों को इस साल शुरू होने वाले टूर्नामेंट के लिए जितने वेतन का वादा किया गया था, उन्हें उसका 11.5 प्रतिशत हिस्सा दिया जाएगा। लेकिन अगले साल पुरूष क्रिकेटरों के वेतन में 20 प्रतिशत कटौती की जाएगी। इस 100 गेंद प्रति टीम के नए प्रारूप के टूर्नामेंट को पुरूष और महिला वर्ग में 8-8 टीमों द्वारा खेला जाना था जिसका आयोजन 17 जुलाई से 15 अगस्त के बीच होना था लेकिन अब इसे 2021 में खेला जाएगा।

ईसीबी और पेशेवर क्रिकेटर संघ (पीसीए) के बीच बातचीत के बाद इस फैसले पर पहुंचा गया। ईसीबी के प्रवक्ता ने बीबीसी से कहा- हम पीसीए के साथ बातचीत कर रहे हैं कि खिलाड़ी इस सत्र और अगले सत्र के लिए अनुबंध की शर्तों पर सहमत हो जाएं। प्रवक्ता ने कहा- पुरूष खिलाडिय़ों ने 2021 वेतन में 20 प्रतिशत कटौती पर सहमति जता दी है और हम टूर्नामेंट में उनके समर्थन के लिए शुक्रगुजार हैं ताकि हमारा खेल कोविड-19 के वित्तीय प्रभाव को कम कर सके।

पुरूष टूर्नामेंट के लिए वेतन में कटौती 30,000 पौंड से 125,000 पौंड तक हो सकती है। हालांकि टूर्नामेंट की संचालन संस्था ने अगले साल से महिला क्रिकेटर के वेतन में कटौती नहीं करने का फैसला किया है जो 3600 पौंड से लेकर 1500 पौंड तक है।

.
.
.
.
.