Sports

ब्रिस्बेन : आॅस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम ने भारत को 4 रनों से हराकर 3 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। भारत को आखिरी ओवर में 13 रनों की जरूरत थी। ओपनर शिखर धवन ने 76 रनों की पारी खेली, लेकिन मिडल आॅर्डर ने उनकी मेहनत पर पानी फेर दिया। हालांकि, दिनेश कार्तिक ने मैच जीत की ओर खींचा, लेकिन अंत में आॅस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी करते हुए मैच पलट दिया। कार्तिक 13 गेंदों में 30 रन बनाकर आउट हुए। एडम जांपा ने 22 रन देकर 2 विकेट निकाले। एंड्रयू टाॅय, स्टेनलेक्स आैर बेहरेनड्रॉर्फ ने 1-1 विकेट लिया। 

AUS 158/4 (17.0 Ovs)

IND 169/7 (17.0 Ovs)

  CRR: 9.94

Australia won by 4 runs (Match reduced to 17 over per side due to rain,Target 174)

इससे पहले ग्लेन मैक्सवेल की तूफानी पारी और भारतीयों की लचर फील्डिंग के कारण ऑस्ट्रेलिया ने बारिश से प्रभावित पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में बुधवार को निर्धारित 17 ओवरों में चार विकेट पर 158 रन बनाकर भारत के सामने डकवर्थ लुईस पद्वति से 174 रन का लक्ष्य रखा। पहले बल्लेबाजी का न्योता पाने वाले ऑस्ट्रेलिया ने जब 16.1 ओवर में तीन विकेट पर 153 रन बनाए थे, तब तेज बारिश के कारण लगभग एक घंटे तक खेल नहीं हो पाया। इसके बाद मैच को 17-17 ओवर का कर दिया गया।           

मैक्सवेल ने 25 गेंदों पर 46 रन बनाए जिसमें चार छक्के शामिल हैं। क्रिस लिन ने भी चार छक्कों की मदद से 20 गेंदों पर 37 रन ठोके, जबकि मार्कस स्टॉयनिस ने 19 गेंदों पर नाबाद 33 रन का महत्वपूर्ण योगदान दिया। भारत के दोनों स्पिनरों का प्रदर्शन पूरी तरह से भिन्न रहा। चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने चार ओवर में 24 रन देकर दो विकेट लिए, लेकिन बाएं हाथ के स्पिनर क्रुणाल पांड्या ने चार ओवर में 55 रन लुटा दिए। साफ लग रहा था कि कोहली को बीच के ओवरों में लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल की कमी खली, क्योंकि पांड्या और खलील अहमद (तीन ओवर में 42 रन देकर एक विकेट) ने शॉर्ट पिच गेंद करायी, जिन पर बल्लेबाजों ने लंबे शॉट लगाए।      
india vs australia image

भारतीयों का क्षेत्ररक्षण भी अच्छा नहीं रहा और ऑस्ट्रेलिया के तीन बल्लेबाजों को जीवनदान मिला। कप्तान आरोन फिंच और स्टॉयनिस के आसान कैच छोड़े गए, जबकि मैक्सवेल रन आउट होने से बचे। भुवनेश्वर कुमार (तीन ओवर में 15 रन) और जसप्रीत बुमराह (तीन ओवर में 21 रन देकर एक विकेट) ने अच्छी शुरुआत की और पहले सात ओवर में केवल 42 रन दिए, लेकिन बीच के ओवरों में यह लय बरकरार नहीं रही।           

ऑस्ट्रेलिया ने डार्शी शार्ट (12 गेंदों पर सात रन) का विकेट जल्दी गंवा दिया, जिन्हें खलील अहमद ने अपनी पहली गेंद पर कुलदीप के हाथों मिड ऑन पर कैच कराया। फिंच (24 गेंदों पर 27 रन) आउट होने वाले पहले बल्लेबाज बनते, लेकिन जब वह छह रन पर खेल रहे थे, तब कोहली ने शॉर्ट कवर पर उनका कैच छोड़ दिया था। इसके बाद बुमराह जब अपने दूसरे स्पेल के लिए आए तो खलील ने उनकी गेंद पर स्टॉयनिस का आसान कैच छोड़ा। बीच में खलील का छोर बदलने का फैसला भी सही साबित नहीं हुआ, जिन्होंने अपने दूसरे ओवर में 21 रन लुटाए। लिन ने उन पर मिड विकेट, स्क्वेयर लेग और लॉन्ग ऑन पर तीन गगनचुंबी छक्के लगाए। 
rohit sharma image

इतिहास पर नजर डालें तो अाॅस्ट्रेलियाई खेमा भारत के आगे घुटने टेकता आया है। दोनों देशों के बीच 2007 से लेकर अबतक 15 मुकाबले हुए। भारत ने 10 मैचों में बाजी मारी, जबकि आॅस्ट्रेलिया 5 मैच जीत पाया है। हालांकि, भारत ने जो आखिरी मैच खेला था, उसमें हार नसीब हुई थी। आखिरी बार दोनों का मुकाबला 10 अक्टूबर, 2017 को हुआ, जिसमें अाॅस्ट्रेलिया 8 विकेट से जीत हासिल करने में कामयाब रहा। 

PunjabKesarisports Rishabh pant

कुलदीप ने फिंच और लिन को अपनी गुगली से गच्चा देकर भारत को थोड़ी राहत दिलायी, लेकिन तब तक मैक्सवेल की नजरें जम चुकी थीं। मैक्सवेल दर्शकों में उत्साह भरने से पहले पवेलियन लौट सकते थे, लेकिन केएल राहुल ने उन्हें रन आउट करने का आसान मौका गंवा दिया। इसका खामियाजा क्रुणाल पांड्या ने भुगता, जिन पर मैक्सवेल ने लॉन्ग ऑन क्षेत्र में लगातार तीन छक्के लगाए। इस बीच, स्टॉयनिस ने पगबाधा के खिलाफ डीआरएस का सफल उपयोग भी किया। बारिश थमने के बाद ऑस्ट्रेलिया को केवल पांच गेंदें खेलने को मिलीं। बुमराह ने पहली गेंद पर मैक्सवेल को कैच कराया, जो गेंद की गति का सही अनुमान नहीं लगा पाए। इसके बाद अगली चार गेंदों पर केवल चार रन बने।     

दोनों टीमें इस प्रकार हैं-
भारत :

विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, केएल राहुल, रिषभ पंत, दिनेश कार्तिक, कृणाल पांड्या, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और खलील अहमद। 

ऑस्ट्रेलिया :
एरोन फिंच (कप्तान), डार्सी शॉर्ट, क्रिस लिन, ग्लेन मैक्सवेल, मार्कस स्टोइनिस, बेन मैक्डरमोट, एलेक्स कैरी, एडम जाम्पा, एंड्रयू टाई, जेसन बेहरेनड्रॉर्फ, बिली स्टेनलेक। 

 

.
.
.
.
.