Sports

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली चाहते हैं कि चोटिल सीनियर सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा प्ले आफ में अपनी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) टीम मुंबई इंडियन्स की ओर खेलने का फैसला लेने के दौरान सतर्कता बरतें क्योंकि उनकी पैर की मांसपेशियों की चोट के बढ़ने का खतरा है जिसके कारण उन्हें आस्ट्रेलिया दौरे पर जाने वाली भारतीय टीम में भी जगह नहीं दी गई। 

PunjabKesari

रोहित किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ दूसरे चरण के मैच के बाद से बायें पैर की मांसपेशियों में चोट के कारण नहीं खेल पाए हैं और इस कारण उन्हें इस महीने आस्ट्रेलिया दौरे पर जाने वाली भारतीय टीम में भी जगह नहीं मिली है। बीसीसीआई अध्यक्ष ने कहा कि बोर्ड रोहित जैसे खिलाड़ी की मैदान पर वापसी के लिए हर संभव प्रयास करेगा क्योंकि यह उनका काम है।  

PunjabKesari

गांगुली कहा कि रोहित फिलहाल चोटिल है। अन्यथा हम उसके जैसे खिलाड़ी को बाहर क्यों रखते। वह सीमित ओवरों की टीम के उप कप्तान हैं। हमें उसका आकलन करना होगा। हमें नहीं पता कि वह कब वापसी करेगा। चोटिल होने के बाद वह अब तक नहीं खेला है। हम चाहते हैं कि वह उबर जाए। यह बीसीसीआई का काम है कि वह अपने सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को मैदान पर उतारे। अगर वह उबर जाता है तो वह खेलेगा।

PunjabKesari

मुंबई इंडियन्स द्वारा पोस्ट किए गए उस वीडियो के बारे में पूछने पर जिसमें रोहित नेट पर बल्लेबाजी करते दिख रहे हैं, गांगुली ने इस सीनियर खिलाड़ी को सतर्क रहने को कहा। पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा कि हां, आप नहीं चाहते कि वह दोबारा चोटिल हो। उसकी मांसपेशियों में चोट है और दोबारा ऐसा हो सकता है। इसके बाद उसे वापसी करने में और अधिक समय लगेगा लेकिन हां, ऐसे लोग हैं जो उसके साथ काम कर रहे हैं।

PunjabKesari

उन्होंने कहा कि मुंबई इंडियन्स का फिजियो उनके साथ काम कर रहा है। भारतीय फिजियो (नितिन पटेल) भी वहां है। रोहित को भी पता है कि उसके सामने लंबा करियर है और यह सिर्फ इस आईपीएल की बात नहीं है। गांगुली का मानना है कि ट्रेनिंग के दौरान जो चीज सही लग रही हो जरूरी नहीं है कि मैच की स्थिति में भी वह सही हो। उन्होंने कहा कि मैं आपको बता सकता हूं कि अभ्यास में आप जो चीजें आसानी से कर रहे हो, मैच की स्थिति के दौरान आपको इसमें जूझना पड़ सकता है। दबाव की स्थिति में मांसपेशियां अलग प्रतिक्रिया देती हैं।
 

.
.
.
.
.