Sports

दुबई : श्याम सुंदर स्वामी और ज्योति बालियान की कम्पाउंड मिश्रित जोड़ी ने शुक्रवार को रजत पदक जीतकर भारत को यहां दुबई विश्व तीरंंदाजी पैरा चैम्पियनशिप में पहला पदक दिलाया। भारतीय जोड़ी पहले हाफ में दो अंक (78-76) से बढ़त बनाए थी लेकिन अंत में दबाव में आ गयी जिससे उन्हें रूस के बेर शिगाएव और तातियाना आंद्रिवस्काइया से 148-150 से हारकर दूसरे स्थान से संतोष करना पड़। श्याम-ज्योति की जोड़ी ने सेमीफाइनल में जूली चुपिन और थिएरी जोसायूमे की फ्रांसिसी जोड़ी को 151-145 से हराकर कम से कम रजत पदक पक्का किया था।

 

भारतीय पैरा तीरंदाजों ने 2017 के बाद से विश्व चैम्पियनशिप को छोड़कर प्रत्येक टूर्नामेंट में पदक जीते थे। भारत ने इससे पहले दो विश्व तीरंदाजी पैरा चैम्पियनशिप - बीजिंग 2017 और डेन बॉश 2019 - में हिस्सा लिया था जिसमें राकेश कुमार कांस्य पदक जीतने के करीब पहुंचे थे। इससे पहले तोक्यो पैरालंपिक के कांस्य पदक विजेता भारतीय खिलाड़ी हरविंदर सिंह को पुरुषों की व्यक्तिगत ओपन रिकर्व स्पर्धा के पहले दौर में बाई मिली है। हरविंदर को रैंकिंग राऊंड के बाद 11वीं वरीयता दी गई है और उनका सामना अब स्पेन के जोस मैनुअल मारिन रोड्रिग्ज से होगा जिन्हें 22वीं वरीयता हासिल है।

 

भारत के ही राजेश ने 25वें स्थान पर रहते हुए क्वालीफाई किया। उन्होंने पहले दौर में थाईलैंड के सुकुन फेट को 6-2 से हराकर दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया है। हरविंदर रिकर्व मिश्रित टीम और पुरुष युगल स्पर्धाओं में भी खेलेंगे, जिनमें भारत ने क्रमश: 5वां और 7वां स्थान हासिल किया। इस बीच महिला टीम के लिये भी अच्छा दिन रहा तथा पूजा (598) और पूजा खन्ना (544) ने क्वालीफाई में क्रमश: चौथा और 13वां स्थान हासिल किया। ये दोनों खिलाड़ी रिकर्व महिला युगल में भी खेलेंगी। उन्हें इसमें दूसरी वरीयता मिली है।

.
.
.
.
.