Sports

याओंडे : सादियो माने ने आखिरकार सेनेगल को पहली बार अफ्रीकी कप चैम्पियन बनाया जबकि लिवरपूल के उनके साथी मोहम्मद सालाह मिस्र के लिये कोई कमाल नहीं कर सके। माने ने पेनल्टी शूटआउट में गोल दागकर मैच के निर्धारित समय के भीतर पेनल्टी चूकने का खामियाजा भर दिया। सेनेगल ने शूटआउट में 4-2 से जीत दर्ज की जबकि निर्धारित समय तक मैच गोलरहित बराबरी पर था।

सेनेगल इससे पहले दो बार अफ्रीकी कप आफ नेशंस फाइनल हार चुका है। तीन साल पहले मिस्र ने उसे हराया था तब माने बुरी तरह से मैदान पर रोने लगे थे। माने ने अपने साथी खिलाड़ियों के साथ जीत का जश्न मनाया लेकिन सालाह को सांत्वना भी दी जिनकी आंखों में आंसू थे। इस मैच को लिवरपूल के दो सितारों माने और सालाह के बीच मुकाबला माना जा रहा था लेकिन यह उतना शानदार हो नहीं सका। 

.
.
.
.
.