Sports

नई दिल्ली : रोरी मैक्लोरी ने नई सुपर लीग में खेलने से इंकार कर दिया है। रोरी का यह फैसला तब सामने आया है जब पी.जी.ए. टूर प्रबंधन की ओर से नई लीग में खेलने वाले गोल्फर्स पर लाइफ टाइम बैन लगाने की बात उठी थी। 32 साल के रोरी को नई लीग के लिए भारी भरकम राशि ऑफर हुई थी। लेकिन अब खबर है कि वह इसके बारे में सोच नहीं रहे हैं। मैक्लोरी ने कहा हे पिछले सप्ताह आपने यूरोप फुटबॉल में नई यूरोपीयन सुपर लीग की बात सुनी थी। लोगों ने देखा कि यह सिर्फ पैसे से जुड़ी लीग थी। इसका मकसद सिर्फ ज्यादा से ज्यादा पैसा जोडऩा था। 
मैक्लोरी ने कहा कि यह कुछ प्लेयरों के लिए सही भी हो सकता है कि आप वहां जाए और खूब पैसे कमाएं लेकिन मुझे लगता है कि हमें इसके पीछे नहीं जाना चाहिए। अगर मैं अपनी बात करूं तो मैं हमेशा से मेजर चैम्प्यिनशिप जीतना चाहता था। ऐसी चैम्प्यिनशिप जिसे जीतकर इतिहास में याद रखा जाऊं।
बता दें कि यूरोपीयन टूर के चीफ एग्जीक्यूटिव केथ पैली ने बीते दिनों ही नॉर्थ कैरोलिना ने इस पर बात की थी। उन्होंने कहा था कि गोल्फ की नई लीग में हिस्सा लेने वाले गोल्फर्स को लाइट टाइम बैन का सामना करना पड़ेगा। इसके बाद से ही टॉप गोल्फर्स नई लीग से पीछे हट गए थे।

.
.
.
.
.