Sports

नई दिल्ली : मुंबई इंडियंस से करारी हार मिलने के बाद आरसीबी के कप्तान विराट कोहली काफी नाखुश दिखे। पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन के दौरान उन्होंने हार के कारणों पर चर्चा की। कोहली ने टीम की पारी के अंतिम पांच ओवरों पर बात करते हुए कहा कि यह बल्लेबाजी का एक विचित्र चरण था। सब कुछ फील्डर्स के पास गया। जब ऐसा होता है तो इस तरह की चीजें होती हैं। उन्होंने अंतिम 5 ओवरों में अच्छी गेंदबाजी की और हमें 20 रन कम दिए। हम 17 वें ओवर तक खेल में थे और हमारे गेंदबाजों का यह एक अच्छा प्रयास था।

कोहली बोले- यह मूल रूप से कप्तान का परिस्थितियों से सामंजस्य बिठाने पर था। हमने डेल और मॉरिस से शुरुआती स्विंग और पावरप्ले में वाशिंगटन का इस्तेमाल करने का सोचा था। हमें वहां कुछ विकेट चाहिए थे, लेकिन उनके बल्लेबाजों ने अच्छा काम किया। यह हमेशा होने वाला है - कुछ टीमें जल्दी शिखर पर आती हैं और कुछ बाद में बेहतर करती हैं। जैसा कि हम देख सकते हैं कि अंक तालिका में पांचवें से आठवें स्थान की टीमें अब अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं। 

कोहली ने कहा- जब शीर्ष-दो में संघर्ष होता है, तो यह हमेशा तीव्र होता है और खास तौर पर आईपीएल जैसी प्रतियोगिता में, आप किसी भी टीम को कमतर नहीं आंक सकते। बता दें कि आरसीबी को अब 12 मैचों में सात जीत और पांच हार के साथ अंक तालिका में दूसरे नंबर पर बनी हुई है। उन्हें अगले दो में से एक मैच जीतना होगा लेकिन वह भी अच्छे अंतर से। तभी उनकी टीम क्वालिफाई कर पाएगी। अगर वह मैच हार गए तो पंजाब और दिल्ली के चांस बन सकते हैं।

.
.
.
.
.