Sports

मुंबई : अजिंक्य रहाणे और पृथ्वी शाॅ फिर से विफल रहे, जिससे कर्नाटक के तेज गेंदबाजों ने एलीट रणजी ट्राफी मैच के शुरूआती दिन यहां मुंबई को पहली पारी में महज 194 रन पर समेट दिया। हालांकि कप्तान सूर्यकुमार यादव (94 गेंद में 77 रन, 10 चौके, दो छक्के) अकेले बीकेसी मैदान पर डटे रहे जबकि दूसरे छोर पर बल्लेबाजों के आउट होने का सिलसिला जारी रहा। उनकी पारी ने सुनिश्चित किया कि मेजबान टीम कम से कम 175 रन का आंकड़ा पार कर ले।

वहीं तीसरे सत्र में शाॅ ओवरथ्रो को बचाते हुए गिर गए और अपना कंधा चोटिल करा बेठे। उन्हें मैदान से बाहर ले जाया गया। इससे पहले कर्नाटक के चार तेज गेंदबाजी आक्रमण ने कप्तान करूण नायर के गेंदबाजी करने के फैसले को सही ठहराया जिन्होंने लंच तक मुंबई का स्कोर छह विकेट पर 86 रन कर दिया। सलामी बल्लेबाज आदित्य तारे को वी कौशिक (45 रन देकर तीन विकेट) ने आउट किया। रहाणे और शाॅ ने पारी को संभालने का प्रयास किया। लेकिन रहाणे (07) शुरूआत को बड़ी पारी में तब्दील करने में असफल रहे। रहाणे को 7 रन पर जब जीवनदान मिला तब रोनित मोरे (47 रन देकर दो विकेट) उनका रिटर्न कैच लपकने में असफल रहे। लेकिन मोरे ने 13वें ओवर में तीन गेंद के भीतर रहाणे और फिर सिद्धेश लाड (04) को आउट कर दिया।

शाॅ भी बड़ी पारी नहीं खेल सके और 57 गेंद में 6 चौकों की मदद से 29 रन बनाकर अनुभवी अभिमन्यु मिथुन (48 रन देकर दो विकेट) का शिकार बने। प्रतीक जैन ने फिर सरफराज खान (08) और शम्स मुलानी को पवेलियन भेजा। सूर्यकुमार और शशांक अतारडे (51 गेंद में छह चौके से 35 रन) ने 92 गेंद में 88 रन की भागीदारी निभाकर पारी को संभाला। कौशिक ने अतारडे का विकेट झटककर इस भागीदारी को तोड़ा जिससे 7वां विकेट 148 रन पर गिरा। मुंबई ने श्रेयस गोपाल के रूप में अंतिम विकेट गंवाया।

जवाब में कर्नाटक ने स्टंप तक तीन विकेट पर 79 रन बना लिए और टीम पहली पारी के हिसाब से 115 रन से पीछे है। सलामी बल्लेबाज देवदत्त पड्डीकल (पांच चौके से 32 रन) और आर समर्थ (नाबाद 40 रन) बदौलत टीम ने अच्छी शुरूआत की जिन्होंने पहले विकेट के लिए 68 रन जोड़े। स्पिनर शम्स मुलानी ने हालांकि पड्डीकल और अभिषेक रेड्डी (शून्य) को एक ही ओवर में आउट कर दिया। ऑफ स्पिनर अतारडे ने रोहन कदम (04) का विकेट झटका।

.
.
.
.
.