Sports

नई दिल्ली : भारतीय महिला हॉकी टीम की मुख्य कोच यानेक शोपमैन ने मंगलवार को कहा कि प्रो लीग से इस साल होने वाले प्रमुख टूर्नामेंटों से पहले टीम को अपना खेल निखारने में मदद मिलेगी। भारतीय टीम का इस साल का कार्यक्रम काफी व्यस्त है। उसे इस वर्ष विश्व कप, राष्ट्रमंडल खेल और एशियाई खेल जैसी बड़ी प्रतियोगिताओं में भाग लेना है। शोपमैन ने कहा कि मैं चाहती हूं कि हमारी टीम विश्व कप या एशियाई खेल जैसी प्रतियोगिता में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करे।

शोपमैन बोले- खिलाडिय़ों को उस स्तर का अनुभव होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि कोविड के कारण हमारी खिलाडिय़ों को पिछले दो-ढाई वर्ष में वास्तविक मैच खेलकर उस स्तर का बहुत अधिक अनुभव नहीं मिला। इसलिए प्रो लीग काफी मायने रखता है। इससे पता चलेगा कि खिलाड़ी किस तरह से अपने खेल का स्तर बढ़ाते हैं और हमारी रणनीतियों पर कैसे अमल करते हैं। शोपमैन ने कहा कि आप हमारी टीम में कुछ बदलाव भी देखेंगे लेकिन ऐसा नहीं है कि में 10-15 नई खिलाडिय़ों को मौका देने जा रही हूं।

पिछले महीने एशियाई हॉकी कप में अच्छा प्रदर्शन नहीं करने के बावजूद शोपमैन अपनी टीम की प्रगति से संतुष्ट हैं। भारत एशिया कप में तीसरे स्थान पर रहा लेकिन प्रो लीग में उसने चीन को 7-1 से हराकर शानदार शुरुआत की। शोपमैन ने कहा कि लड़कियों ने वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया। निश्चित रूप से हमें स्कोर को देखते हुए अपेक्षित परिणाम नहीं मिले, लेकिन मैं वास्तव में प्रो लीग के पूरे टूर्नामेंट के दौरान टीम की प्रगति को देखकर काफी खुश हूं।

.
.
.
.
.