Sports

पेरिस : महिला और पुरूष पेशेवर टेनिस टूर इस साल विम्बलडन के लिए रैंकिंग अंक प्रदान नहीं करेगा क्योंकि ऑल इंग्लैंड क्लब ने यूक्रेन पर हमले के कारण रूस और बेलारूस के खिलाड़ियों को प्रतिबंधित कर दिया है। डब्ल्यूटीए और एटीपी ने इस फैसले की घोषणा शुक्रवार की रात को की। फ्रेंच ओपन के शुरू होने से दो दिन पहले ही यह घोषणा की गयी है और विम्बलडन एक महीने बाद 27 जून से शुरू होगा। 

तकनीकी रूप से इसका मतलब होगा कि यह टूर्नामेंट प्रदर्शनी प्रतियोगिता की तरह ही होगा जिसमें कोई भी रैंकिंग अंक दाव पर लगे नहीं होंगे। फिर भी यह विम्बलडन ही रहेगा जिसकी अपनी ही परंपरा और प्रतिष्ठा है जिसमें सभी खिलाड़ी सफेद रंग की ड्रेस में खेलते हैं और इसमें मिलने वाली लाखों डॉलर की राशि काफी अहम होती है। इसलिए उम्मीद है कि जो खिलाड़ी इसके लिये क्वालीफाई करेगा, वह इसमें खेलेगा ही। 

रूस के खिलाड़ियों को कई खेल प्रतियोगिताओं में भाग लेने से रोक दिया गया है जिसमें फुटबॉल विश्व कप के क्वालीफाइंग प्लेऑफ भी शामिल है। रूस ने फरवरी में यूक्रेन पर हमला शुरू किया था और बेलारूस में रूस की मदद की थी। ऑल इंग्लैंड क्लब ने अप्रैल में कहा था कि वह रूस और बेलारूस को अपनी प्रतियोगिता में हिस्सा लेने की अनुमति नहीं देगा जिसकी डब्ल्यूटीए और एटीपी सहित कुछ बड़े खिलाड़ियों जैसे गत चैम्पियन नोवाक जोकोविच ने काफी आलोचना की थी। 

.
.
.
.
.