Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : साल 2009 में हुए आतंकी हमले के 10 साल बाद श्रीलंका की टीम पाकिस्तान दौरे पर पहुंची है। जहां दोनों टीमों के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जा चुकी है। वहीं, टी20 सीरीज अभी चल रही है। अब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने श्रीलंका द्वारा मिली सकारात्मक प्रतिक्रिया के बाद पाकिस्तानी में टी20 वर्ल्ड कप और चैंपियंस ट्राॅफी करवाने की भी हुंकार भरी है। 

पीसीबी के चैयरमैन एहसान मणि इस बात को लेकर काफी आश्वस्त हैं कि आने वाले पांच सालों में पाकिस्तान में टी20 वर्ल्ड कप और चैम्पियंस ट्राॅफी को होस्ट कर सकता है। उन्होंने कहा कि विश्व कप के लिए आज हमारे पास ढांचा नहीं है लेकिन इन दोनों बड़े टूर्नामेंट्स (टी20 वर्ल्ड कप और चैम्पियंस ट्राॅफी) के लिए हमारे पास प्लान है। उन्होंने कहा कि मुझे यकीन है कि पांच साल में हमारे यहां टी20 वर्ल्ड कप या चैम्पियंस ट्राॅफी होगी। 

पीसीबी प्रमुख ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) पर भारत, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के प्रति पक्षपाती होने का भी आरोप लगा है। उन्होंने कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि आईसीसी हर मुख्य इवेंट इन तीनों देशों में ही करवाता है। उन्होंने कहा, हमने तब चुनौती नहीं दी जब अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में चीजें कैसे काम करती हैं, को लेकर हममें अस्पष्टता और ज्ञान की कमी थी।  

उन्होंने कहा कि साल 2011 से 2023 के बीच के 9 में से 8 आईसीसी इवेंट्स इन तीनों देशों में हुए। वहीं 2015 वर्ल्ड कप के बाद अगले साल टी20 वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया में हो रहा है। इंग्लैंड ने पिछले तीन ओडीआई इवेंट्स (2013, 2017 चैंपियंस ट्राॅफी और 2019 वर्ल्ड कप) होस्ट किए हैं। दूसरी तरफ भारत ने 2011 वर्ल्ड कप और 2016 टी20 वर्ल्ड कप को होस्ट किया। इसी के साथ ही 2021 टी20 वर्ल्ड कप और 2023 में होने वाला 50-ओवर वाला इवेंट भी भारत में होगा। 

.
.
.
.
.