Sports

कोलकाता : श्रीलंका को भले ही अब तक के सबसे बदतर आर्थिक संकट का सामना करना रहा है लेकिन ब्ल्यू स्टार टीम के कोच बांदा समरकून ने सोमवार को कहा कि पहली बार एएफसी कप फुटबॉल टूर्नामेंट में हिस्सा लेते हुए उनकी टीम का ध्यान अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने पर है। दक्षिण क्षेत्र के शुरुआती दौर के मुकाबले में पिछले हफ्ते काठमांडू के दशरथ रंगशाला स्टेडियम में नेपाल के मछींद्र एफसी को 2-1 से हराकर ब्ल्यू स्टार की टीम एएफसी कप 2022 के ग्रुप चरण में जगह बनाने के करीब पहुंची है।

कोच समरकून ने एटीके मोहन बागान के खिलाफ होने वाले दूसरे दौर के मुकाबले की पूर्व संध्या पर कहा कि इस समय श्रीलंका को बड़ी समस्या का सामना करना पड़ रहा है, आर्थिक कुप्रबंधन। बेशक इससे खेल पर असर पड़ रहा है लेकिन हम यहां फुटबॉल खेलने आए हैं, टीम ब्ल्यू स्टार के रूप में। एटीके मोहन बागान के खिलाफ जीत से ब्ल्यू स्टार की टीम मई में ग्रुप चरण में जगह बनाने से एक जीत की दूरी पर पहुंच जाएगी और कोच अनुकूल तैयारी नहीं होने के बावजूद इसे लेकर उत्सुक हैं।

कोच ने कहा कि हम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अच्छा प्रदर्शन करने के लिए कड़ा प्रयास कर रहे हैं। हम संकट से परेशान नहीं हैं और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कुछ हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं। कोच ने कहा कि काठमांडू से कोलकाता आना आसान था लेकिन वीजा समस्या के कारण उन्हें स्वदेश लौटना पड़ा जिससे उन्हें ट्रेनिंग का पर्याप्त मौका भी नहीं मिला। 

.
.
.
.
.