Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : न्यूजीलैंड के साथ खेले गए वर्ल्ड कप के पहले सेमीफाइनल मैच में भारत को 18 रन से हार का सामना करना पड़ा है और इसी के साथ टीम इंडिया का सफर समाप्त हो गया। मैच हारने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य गेंदबाज रहे हरभजन सिंह ने भारत की हार का कसूरवार केएल राहुल, दिनेश कार्तिक और हार्दिक पांड्या को ठहराया। 

मैच के बाद एक मीडिया हाउस से बातचीत के दौरान हरभजन ने कहा कि बड़ी उम्मीद से टीम में शामिल किए गए केएल राहुल और दिनेश कार्तिक बड़े मैच में पिच पर लहराती गेंदों का सामना नहीं कर पाए। भज्जी ने अंबाती रायुडू का सिलेक्शन ना होने की तरफ इशारा करते हुए कहा कि इन दोनों को ये सोचना चाहिए था कि जिनकी जगह टीम में इनका चयन हुआ है उनमें भी कोई कमी नहीं थी। 

PunjabKesari

भज्जी ने मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाजों को भी निशाने पर लेते हुए कहा कि हर बार शीर्षक्रम आपको मैच नहीं जिता सकता। कप्तान विराट कोहली और रोहित शर्मा के स्कोर ना बनाने पर मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाजों को जिम्मेदारी उठानी चाहिए थी। उन्होंने कहा कि अगर हार्दिक पांड्या (32) और दिनेश कार्तिक (6) टिक कर खेलते तो भारत जीत सकता था। 

गौर हो कि रिजर्व डे तक पहुंचे पहले सेमीफाइनल मैच में न्यूजीलैंड ने टाॅस जीतकर पहले बल्लेबाजी की और 50 ओवर में 8 विकेट गंवाकर 239 रन बनाए। इसके जवाब में उतरी भारतीय टीम 49.3 ओवर में 211 रन ही बना पाई और मैच हार गई। 

.
.
.
.
.