Sports

नई दिल्ली : चेन्नई सुपर किंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ नौ विकेट से जीत से सीजन का अंत किया। चेन्नई टूर्नामेंट के प्लेऑफ रेस से बाहर होने वाली पहली टीम थी। पंजाब के खिलाफ आखिरी मैच जीतने के बाद चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा- यह हमारे लिए एक मुश्किल अभियान था। मुझे नहीं लगता कि हम पूरी क्षमता से खेले। यदि आप बहुत अधिक पिछड़ रहे हैं तो अपने आप को धकेलना और प्रदर्शन के साथ आना बहुत मुश्किल हो जाता है। साथी खिलाडिय़ों के क्रिकेट खेलने के तरीके पर बहुत गर्व है। हमारे लिए 6-7 गेम बहुत कठिन रहे। आप ड्रेसिंग रूम में नहीं रहना चाहेंगे जो वास्तव में क्रिकेट का आनंद नहीं ले रहा है।

धोनी बोले- आप विभिन्न विचारों के साथ आते रहना चाहते हैं लेकिन अगर ड्रेसिंग रूम का माहौल खुश नहीं है, तो यह बहुत कठिन हो जाता है। बहुत कुछ इस बात पर निर्भर करता है कि नीलामी पर बीसीसीआई क्या फैसला करता है। हमें अपने मुख्य समूह को थोड़ा बदलने और अगले दस वर्षों तक देखने की जरूरत है। आईपीएल की शुरुआत में, हमने एक टीम बनाई और इसने अच्छा प्रदर्शन किया।

धोनी बोले- हमेशा एक समय आता है जहां आपको थोड़ा बदलाव करना पड़ता है। इसे ही अगली पीढ़ी को सौंप दिया जाता है। हम मजबूत होकर लौटेंगे, यही हम जानते हैं। यह एक कठिन वर्ष रहा है। यह उन सीजन में से एक है जिसमें अधिकांश टीमों ने अच्छा खेला है। वह (रुतुराज गायकवाड़) ने अच्छी बल्लेबाजी की है। वह कोविड-19 के कारण कुछ मैच खेल नहीं पाया था। 20 दिनों के बाद भी वह फिट नहीं था। उसे अभ्यास का मौका नहीं मिला।

.
.
.
.
.