Sports

सोनीपत : हरियाणा की महिला मुक्केबाजों ने चौथी युवा पुरुष एवं महिला राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप में बुधवार को यहां अपना दबदबा बनाया और उनमें से 11 मुक्केबाज सेमीफाइनल में पहुंचने में सफल रही। मौजूदा विश्व चैंपियन गीतिका (48 किग्रा) ने टूर्नामेंट में अपना प्रभावशाली प्रदर्शन जारी रखा है। गीतिका ने क्वार्टर फाइनल में दिल्ली की संजना पर एकतरफा अंदाज में 5-0 से जीत दर्ज की। वह सेमीफाइनल में गुरुवार को उत्तर प्रदेश की रागिनी उपाध्याय से भिड़ेंगी। 

सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली हरियाणा की अन्य मुक्केबाजों में तमन्ना (50 किग्रा), नीरू (52 किग्रा), नेहा (54 किग्रा), प्रीति (57 किग्रा), प्रीति दहिया (60 किग्रा), खुशी (63 किग्रा), लशु यादव (70 किग्रा), स्नेहा (75 किग्रा), निधि (81 किग्रा) और दीपिका (+81 किग्रा) शामिल हैं। चंडीगढ़ की नेहा (48 किग्रा) और पंजाब की सुविधा (50 किग्रा) ने भी क्रमश: पश्चिम बंगाल की मोनिका मल्लिक और तमिलनाडु की दिलशाद बेगम को हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है। 

इस बीच पुरुष वर्ग में विश्व युवा चैंपियनशिप 2021 के कांस्य पदक विजेता बिश्वामित्र चोंगथम (51 किग्रा) के नेतृत्व में सेना खेल संवर्धन बोर्ड (एसएससीबी) के मुक्केबाजों ने अपना दबदबा बनाया। एसएससीबी के दो अन्य मुक्केबाज विश्वनाथ सुरेश और विक्टर सिंह (54 किग्रा) भी अंतिम चार में पहुंच गए हैं। पुरुष और महिला दोनों वर्ग के सेमीफाइनल मुकाबले गुरुवार को खेले जाएंगे। 

देश भर से 479 मुक्केबाज युवा पुरुष और महिला राष्ट्रीय चैंपियनशिप के में हिस्सा ले रहे हैं। कोविड-19 महामारी के कारण एक साल से भी अधिक समय तक भारत में मुक्केबाजी प्रतियोगिताएं नहीं हो पायी थी। यह उसके बाद भारत में होने वाला पहला घरेलू मुक्केबाजी टूर्नामेंट है। 

.
.
.
.
.