T20-world-cup-2021
Sports

हिसार : उम्मीदों पर खरी उतरते हुए विश्व चैम्पियनशिप पदक विजेता मंजू रानी ने शनिवार को हरियाणा के हिसार के सेंट जोसेफ इंटरनेशनल स्कूल में चल रही 5वीं एलीट महिला राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप में जीत के साथ अपने अभियान की शुरुआत किया। 

रेलवे स्पोट्र्स प्रमोशन बोर्ड (आरएसपीबी) की मुक्केबाज मंजू, जिन्होंने 2019 में आयोजित विश्व चैंपियनशिप में पदार्पण करते हुए रजत जीतकर सुर्खियां बटोरीं थीं, ने हरियाणा बॉक्सिंग संघ के सहयोग से बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (बीएफआई) द्वारा आयोजित इस प्रतिष्ठित आयोजन के तीसरे दिन शनिवार को 48 किग्रा भार वर्ग में दूसरे दौर का मैच 5-0 से जीता। उनके सामने उड़ीसा की भबानी बारिक थीं। 

हरियाणा की ही नीतू ने भी उतना ही अच्छा प्रदर्शन किया और उन्होंने 48 किग्रा भार वर्ग में एकतरफा मुकाबले में राजस्थान की स्वस्ति आर्य को एकतरफा अंदाज में समान अंतर से हराया। इस बीच, 50 किग्रा भार वर्ग के दूसरे दौर में पंजाब की कोमल और आंध्र प्रदेश की राम्या गुडुरू ने कड़ी टक्कर के बाद जीत दर्ज की। जहां कोमल ने मध्य प्रदेश की दीपा कुमार के खिलाफ 3-2 से जीत दर्ज की, वहीं आंध्र प्रदेश की राम्या गुडुरु ने उत्तर प्रदेश की रिंकी किशोर को 4-1 से हराया। 

इससे पहले चैंपियनशिप के दूसरे दिन, जिसमें देश भर के 36 राज्यों औऱ केंद्र शासित प्रदेशों तथा बोडरं के 320 से अधिक मुक्केबाज भाग ले रहे हैं, दो बार की एशियाई चैंपियन पूजा रानी ने अखिल भारतीय पुलिस की पिंकी के खिलाफ एकतरफा अंदाज में 5-0 की आसान जीत हासिल का। भिवानी जिले की रहने वाली पूजा ने 2021 टोक्यो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया था। 

कोविड-19 महामारी के बाद घरेलू सकिर्ट के फिर से शुरू होने के बाद से यह छठी राष्ट्रीय चैंपियनशिप जिसका आयोजन बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (बीएफआई) करा रहा है। इससे पहले बीएफआई ने जूनियर, युवा और पुरुषों के राष्ट्रीय चैम्पियनशिप का सफल आयोजन किया है। 

चैंपियनशिप मुक्केबाजी की वैश्विक नियामक संस्था-एआईबीए के 12 भार वर्गों के अनुसार खेली जा रही है। ये भार वर्ग हैं- 48 किग्रा, 50 किग्रा, 52 किग्रा, 54 किग्रा, 57 किग्रा, 60 किग्रा, 63 किग्रा, 66 किग्रा, 70 किग्रा, 75 किग्रा, 81 किग्रा और +81 किग्रा। इस चैंपियनशिप के स्वर्ण और रजत पदक विजेता राष्ट्रीय कोचिंग शिविर में स्थान अर्जित करेंगे। प्रत्येक श्रेणी में शिविर के लिए शेष दो नामों का चयन सेलेक्शन ट्रायल में उनके प्रदर्शन के आधार पर किया जाएगा, जो कि इस प्रतियोगिता के ठीक बाद आयोजित होगा। 

.
.
.
.
.