Sports

नयी दिल्ली : भारत के शीर्ष बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने सोमवार को कहा कि विश्व स्तर पर देश का नाम रोशन करके वह अपने सपने को जी रहे हैं और आल इंग्लैंड चैम्पियनशिप के फाइनल में ओलंपिक चैम्पियन विक्टर एक्सेलसेन के खिलाफ उन्होंने अपना ‘ सब कुछ ’ लगा दिया । उत्तराखंड के 20 वर्ष के सेन ने बर्मिंघम में आल इंग्लैंड चैम्पियनशिप के फाइनल में जगह बनाई लेकिन दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी एक्सेलसेन से हार गए।

उन्होंने ट्विटर पर लिखा- अलमोड़ा से आल इंग्लैंड ओपन तक मेरे लिये लंबा सफर रहा है। मैने कल फाइनल में अपना सब कुछ कोर्ट पर दे दिया लेकिन जीत नहीं सका। उन्होंने कहा- मेरे लिये देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिलना सब कुछ है। मैं अपना सपना जी रहा हूं और अपना शत प्रतिशत हमेशा कोर्ट पर दूंगा। उनके प्रदर्शन की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर सचिन तेंदुलकर तक सभी ने तारीफ की है।

सेन ने लिखा- मैं दुनिया भर से मिल रहे इस प्यार और सहयोग से अभिभूत हूं। मैं सभी को धन्यवाद कहना चाहता हूं। उन्होंने कहा- मैं बाइ (भारतीय बैडमिंटन संघ) और भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) को धन्यवाद देना चाहता हूं। मैं अपने माता पिता और भाई चिराग के बलिदानों को नहीं भूल सकता हूं। मैं प्रकाश सर और विमल सर को भी धन्यवाद देता हूं जिन्होंने पूरे सफर में मेरे सरपरस्त की भूमिका निभाई।

.
.
.
.
.