Sports

नई दिल्ली : ऑस्ट्रेलिया के महान क्रिकेटर इयान चैपल ने कहा कि सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के भारत के जज्बे से दूसरी महत्वाकांक्षी टीमों को सीखना चाहिए ताकि टेस्ट प्रारूप सुरक्षित रहे। हाल ही में टेस्ट श्रृंखला में दक्षिण अफ्रीका की 3.0 से हार के बाद आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान चैपल ने भारत, इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के अलावा बाकी टेस्ट देशों के प्रदर्शन में आई गिरावट पर चिंता जताई।

चैपल ने ‘ईएसपीएन क्रिकइन्फो' में अपने कालम में लिखा, ‘टेस्ट क्रिकेट के भविष्य को बचाना है तो खेल का स्तर ऊंचा रखना होगा। भारत को प्रतिभाओं का विशाल पूल, अपार आर्थिक संसाधन और आईपीएल होने से काफी फायदा है । दूसरी टीमें भी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का जज्बा भारत से सीख सकती हैं।' भारत ने अपने प्रमुख तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के बिना भी दक्षिण अफ्रीका का सूपड़ा साफ करके आईसीसी टेस्ट चैम्पियनशिप तालिका में शीर्ष स्थान पर कब्जा कर लिया है।

चैपल ने कहा, ‘भारतीय गेंदबाजी आक्रमण का कोई जवाब नहीं है। भारत के पास हमेशा से अच्छे स्पिनर थे लेकिन अब बेहतरीन तेज गेंदबाज भी आ गए हैं। हार्दिक पंड्या हरफनमौला की कमी पूरी करते हैं लिहाजा यह भारतीय आक्रमण किसी भी मैदान पर कहर बरपा सकता है।' उन्होंने भारतीय कप्तान विराट कोहली की खास तौर पर तारीफ करते हुए कहा, ‘भारत के पास विराट कोहली जैसा कप्तान है जो मोर्चे से अगुवाई करता है। लगातार अच्छा खेलने की कोहली की ललक से दूसरों को प्रेरणा मिलती है।' 

.
.
.
.
.