Sports

नई दिल्ली : विजय हजारे ट्रॉफी में बड़ौदा के कप्तान क्रुणाल पांड्या ने एक बार फिर से तेजतर्रार खेल दिखाते हुए शतक जड़ दिया। छत्तीसगढ़ के खिलाफ खेले गए मुकाबले में क्रुणाल ने 100 गेंदों में 20 चौके और तीन छक्कों की मदद से 133 रन बना दिए जिसकी बदौलत बड़ौदा निर्धारित 50 ओवरों में 332 रन पर पहुंच गई। क्रुणाल का यह सीजन में दूसरा शतक है। इससे पहले हैदराबाद के खिलाफ भी उन्होंने शतक लगाया था। 

विजय हजारे ट्रॉफी में क्रुणाल पांड्या


71 बनाम गोवा
127* बनाम त्रिपुरा
55 बनाम हैदराबाद
133* बनाम छत्तीसगढ़
4 मैच, 386 रन

बहरहाल, छत्तीसगढ़ के खिलाफ खेलने उतरे क्रुणाल पांड्या क्रीज पर तब आए थे जब बड़ौदा के 4 विकेट 92 रन पर गिर चुके थे। ऐसे में क्रुणाल ने पहले विष्णु सोलंकी फिर अतीत सेठ के साथ मिलकर ताबड़तोड़ बल्लेबाजी जारी रखी। क्रुणाल का साथ अतीत ने भी बाखूबी दिया। उन्होंने 16 गेंदों में 7 छक्कों की मदद से 51 रन बनाए और बड़ौदा को 300 रन से पार पहुंचा दिया। 

बता दें कि क्रुणाल का लिस्ट-ए करियर में यह दूसरा शतक है। वह सीजन की चार पारियों में 50+ से ज्यादा स्कोर बना रहे हैं। वह अब तक ओवरऑल 65 लिस्ट ए मैच खेल चुके हैं जिसमें उनके नाम पर 1981 रन दर्ज हैं। खास बात यह रही कि क्रुणाल ने शतकीय पारी में 20 चौके लगातार लिस्ट ए में अपने 200 चौके भी पूरे कर लिए।

.
.
.
.
.