Sports

ब्रिस्बेन : ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज शुरू होने से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि उनकी टीम ने कभी किसी चीज की 'शुरूआत' नहीं की है, लेकिन विरोधी टीम के सीमा लांघने पर वह आत्मसम्मान की रक्षा के लिए जरूर खड़ी होगी। कोहली ने कहा, "आक्रामकता इस पर निर्भर करती है कि मैदान पर क्या हालात हैं। यदि विरोधी टीम आक्रामक है तो आपको जवाब देना होगा। भारत कभी भी शुरुआत नहीं करता, लेकिन आत्मसम्मान का दायरा हम तय करते हैं। इसे लांघने पर हमें जवाब देना होगा।" 

टीम के लिए 120 प्रतिशत देना है आक्रामकता 

Sports

कोहली ने कहा, "आक्रामकता का यह भी मतलब होता है कि टीम के भीतर आप हालात से कितने जुड़े हुए हैं और हर विकेट के लिए कितना प्रयास कर रहे हैं। यह भाव-भंगिमा में झलक जाता है। बल्लेबाज बिना कुछ कहे आक्रामक हो सकते हैं। ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने कोहली के इस बयान से असहमति जताई थी कि वह टकराव के मौके नहीं तलाशते हैं। कोहली ने कहा, "मेरे लिए आक्रामकता का मतलब जीतने के लिए खेलना और अपनी टीम के लिए हर मैच जीतना है। हर किसी के मायने अलग होंगे, लेकिन मेरे लिए हर हालत में मैच जीतना और टीम को 120 प्रतिशत देना आक्रामकता है।" 

स्मिथ-वॉर्नर पर टिप्पणी से विराट ने किया इनकार

PunjabKesarisports Virat kohli

स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर के बिना ऑस्ट्रेलियाई टीम भले ही कमजोर लग रही हो, लेकिन कोहली को उनसे चुनौती मिलने की उम्मीद है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने दोनों पर लगा प्रतिबंध कम करने से इनकार कर दिया है। कोहली ने कहा, "हम सभी ने देखा कि क्या हुआ। मुझे नहीं पता कि ये फैसले लेने से पहले क्या हुआ, लेकिन क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने ये फैसले लिए हैं और इन पर टिप्पणी करने का मुझे अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि किसी भी टीम के लिए अपने दो सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों को खोना अच्छा नहीं है, लेकिन इसके बावजूद उनके पास बेहतरीन क्रिकेटर हैं। हमें ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में खेलने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।"

.
.
.
.
.