Sports

खेल डैस्क : भारत के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने अक्टूबर के महीने में ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले आईसीसी टी 20 विश्व कप 2022 में जसप्रीत बुमराह के खेलने की संभावनाओं पर खुल कर बात की है। रेवस्पोट्र्ज़ पर आई एक रिपोर्ट के अनुसार गांगुली का कहना है कि  बुमराह टी 20 विश्व कप से बाहर नहीं हैं क्योंकि मेगा इवेंट पिछले सप्ताह अक्टूबर में है। उन्होंने यह भी कहा कि किसी को भी बंदूक नहीं कूदनी चाहिए।

 

T20 world cup 2022, Jasprit Bumrah, BCCI President Sourav Ganguly, cricket news in hindi, टी 20 विश्व कप 2022, जसप्रीत बुमराह, बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली, क्रिकेट समाचार हिंदी में

 

गांगुली ने रेवस्पोट्र्ज से कहा- जसप्रीत बुमराह अभी भी टी-20 विश्व कप 2022 से बाहर नहीं हुए हैं। विश्व कप में अभी काफी समय है। चलो बंदूक नहीं कूदते। इससे पहले गुरुवार को बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा था कि बुमराह को पीठ की चोट के कारण 6 महीने के लिए एक्शन से बाहर होना पड़ेगा। बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा- बुमराह निश्चित तौर पर टी-20 विश्व कप 2022 नहीं खेलेंगे। उनकी पीठ की गंभीर स्थिति है। यह स्ट्रेस फ्रैक्चर है और वह 6 महीने के लिए बाहर हो सकते हैं।

 

 

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरा और तीसरा टी20 खेलने वाले बुमराह ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज का पहला मैच खेलने के लिए टीम के साथ तिरुवनंतपुरम की यात्रा की थी, लेकिन मैच से  पहले उन्हें फिर से पीठ की अकडऩ ने परेशान कर दिया। इसके बाद वह रिहैबिलिटेशन के लिए राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के लिए बेंगलुरू रवाना हो गए। घुटने की सर्जरी से उबर रहे रवींद्र जडेजा के बाद 28 वर्षीय तेज गेंदबाज बाहर होने वाले दूसरे सीनियर स्टार खिलाड़ी हैं।

 

T20 world cup 2022, Jasprit Bumrah, BCCI President Sourav Ganguly, cricket news in hindi, टी 20 विश्व कप 2022, जसप्रीत बुमराह, बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली, क्रिकेट समाचार हिंदी में

 

भारतीय टीम इस समय पहले से ही परेशान दिख रही है और बुमराह की चोट ने कप्तान रोहित शर्मा और कोच राहुल द्रविड़ के लिए मुश्किलें बढ़ा दी हैं। बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा- बुमराह और जडेजा को खोना भारत के लिए बहुत बड़ा घाटा होगा। उन्हें एशिया कप के लिए आराम दिया गया था ताकि उनके कार्यभार प्रबंधन का प्रबंधन किया जा सके। अब यह एक सवाल बना हुआ है कि ऑस्ट्रेलिया श्रृंखला खेलने के लिए क्या वह पर्याप्त रूप से फिट थे या नहीं।

.
.
.
.
.