Sports

मोहाली : भारत के नए टेस्ट कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे की कमी पूरी करना मुश्किल है लेकिन ऐसा समय आता है जब आगे की सोचकर युवाओं को मौके देना जरूरी होता है। भारत के लिए 82 टेस्ट खेल चुके रहाणे और 95 मैच खेल चुके पुजारा को श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला के लिए भारतीय टीम में जगह नहीं मिली है। 

रोहित ने रहाणे और पुजारा की गैर मौजूदगी के असर के बारे में पूछे गए सवाल पर कहा, ‘इन दोनों की कमी पूरी करना मुश्किल है। मुझे भी नहीं पता कि इन दोनों की जगह कौन आएगा। हमें कल तक इंतजार करना होगा।' उन्होंने कहा, ‘इन दोनों के योगदान को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। बरसों की मेहनत, 80 और 90 टेस्ट खेलना, विदेश में टेस्ट खेलना और भारत को नंबर एक पायदान तक पहुंचाने में इन दोनों ने मदद की। ऐसा नहीं है कि आगे ये दोनों हमारी रणनीति का हिस्सा नहीं होंगे।' 

उन्होंने कहा, ‘यह बस अभी की बात है कि उनके नाम पर विचार नहीं हुआ। इसका कोई लिखित आश्वासन नहीं है कि भविष्य में भी ऐसा ही होगा।' रोहित ने कहा कि नए खिलाड़ियों के लिए चुनौतीपूर्ण होगा लेकिन उन्हें मौके मिलेंगे। उन्होंने कहा, ‘जब भी टीम में बदलाव होते हैं तो नए खिलाड़ियों के लिए आसान नहीं होता। लेकिन ये ऐसे खिलाड़ी हैं जो असाधारण प्रदर्शन कर चुके हैं चाहे भारत ए के लिए या प्रथम श्रेणी क्रिकेट में। उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि इन खिलाड़ियों की हौसलाअफजाई करनी चाहिए। हमें आगे की ओर देखना है और ये खिलाड़ी लंबे समय से इंतजार कर रहे हैं। उम्मीद है कि मौका मिलने पर वे शानदार प्रदर्शन करेंगे।' 

.
.
.
.
.