T20-world-cup-2021
Sports

लुसाने : अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) ने कहा कि भारत और स्पेन आगामी महिला हॉकी प्रो लीग में केवल इस सत्र के लिए वैकल्पिक टीमों के रूप में खेलेंगे। महिला एफआईएच हॉकी प्रो लीग का तीसरा सत्र 13 अक्टूबर से शुरू होगा। इस दिन ओलिम्पिक एवं विश्व चैंपियन नीदरलैंड की टीम बेल्जियम से भिड़ेगी। 

अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ ने एक बयान में कहा कि एफआईएच को यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि भारत और स्पेन की महिला राष्ट्रीय टीमें एफआईएच हॉकी प्रो लीग -‘हॉकी एट इट्स बेस्ट’ के तीसरे सत्र में भाग लेंगी। उन्होंने बताया कि दोनों टीमें सिर्फ इस सत्र के लिए ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की जगह लेंगी। ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की टीमें चौथे सत्र में फिर से प्रो लीग में शामिल होंगी।

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने इस लीग के साथ-साथ पिछले महीने आगामी एफआईएच हॉकी जूनियर विश्व कप और एफआईएच हॉकी इंडोर विश्व कप से भी नाम वापस ले लिया था। उन्होंने यह फैसला अपनी-अपनी सरकारों द्वारा लगाए गए कोविड-19 संबंधित अंतरराष्ट्रीय यात्रा प्रतिबंधों को देखते हुए लिया था।

भारत और स्पेन दोनों ने हाल ही में टोक्यो ओलिम्पिक में शानदार प्रदर्शन किया था। भारत इन खेलों में पहली बार सेमीफाइनल में पहुंचा जबकि स्पेन शूट-आउट में ग्रेट ब्रिटेन से हारने के बाद अंतिम चार में जगह बनाने से चूक गया था एफआईएच के मुख्य कार्यकारी अधिकारी थिएरी वेइल ने कहा कि एफआईएच हॉकी प्रो लीग के अगले सत्र के लिए टोक्यो में शानदार प्रदर्शन करने वाली भारत और स्पेन जैसी टीमों का स्वागत करना अद्भुत है।

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष ज्ञानेंद्रो निंगोमबम ने कहा कि आगामी एफआईएच हॉकी प्रो लीग में देश की भागीदारी से खिलाडिय़ों को न केवल दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाडिय़ों के खिलाफ प्रतिस्पर्धा करने का मौका मिलेगा बल्कि टीम के प्रशंसकों की संख्या बढ़ाने में भी मदद मिलेगी। उन्होंने कहा- 2022 में होने वाले एशियाई खेलों से पहले, वर्ष की शुरुआत में दुनिया की मजबूत टीमों के साथ खेलने का मौका निश्चित रूप से हमारी टीमों के लिए बेहतरीन मंच होगा। एशियाई खेल ओलिम्पिक क्वालिफिकेशन स्पर्धा भी है।

.
.
.
.
.