Sports

राजकोट : खराब फॉर्म से जूझ रहे कप्तान ऋषभ पंत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुक्रवार को ‘करो या मरो' के चौथे टी20 मैच में अच्छी पारी खेलनी होगी ताकि बीच के ओवरों में दबाव से बचा जा सके। पंत के खराब फॉर्म के अलावा विशाखापत्तनम में दूसरे मैच में भारत ने अपनी गलतियों से पार पाकर बड़ी जीत दर्ज की थी। अब उन्हें पांच मैचों की इस श्रृंखला में बने रहने के लिए एक और जीत की जरूरत है ताकि श्रृंखला का फैसला पांचवें मैच में हो। 

पंत इतने शानदार बल्लेबाज हैं कि जब किसी भी प्रारूप में उनकी आलोचना होती है, वह जबर्दस्त पारी खेलकर सभी का मुंह बंद कर देते हैं और चौथे मैच में उनके लिए यही मौका है। दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों ने उनके बल्ले पर अंकुश लगाकर उन्हें मनचाहे शॉट खेलने नहीं दिये हैं और अक्सर वह डीप में कैच देकर आउट हुए हैं। उन्हें इस कमी से पार पाना होगा। 

पिछले मैच में रूतुराज गायकवाड़ और ईशान किशन ने भारत को शानदार शुरूआत दी। ईशान ने परिपक्व बल्लेबाजी करके रिजर्व सलामी बल्लेबाज के रूप में अपना दावा पुख्ता कर दिया है और इस साल आस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप के लिये चयनकर्ताओं का ध्यान इस पर जरूर गया होगा। गायकवाड़ और ईशान बाकी दोनों मैचों में भी इस लय को कायम रखना चाहेंगे। इसके बाद दोनों नियमित सलामी बल्लेबाजों की वापसी से पहले आयरलैंड के खिलाफ भी दो मैच खेलेंगे। 

शॉर्ट गेंद का सामना नहीं कर पा रहे श्रेयस अय्यर अभी तक कोई कमाल नहीं कर सके हैं और तीसरे नंबर पर उनसे अच्छी पारी की उम्मीद है। विशाखापत्तनम में अच्छी शुरूआत के बाद बीच के ओवरों में भारतीय टीम जूझती नजर आई। आखिर में हार्दिक पांड्या ने 21 गेंद में नाबाद 31 रन बनाकर टीम को 180 रन के पास पहुंचाया। अब मध्यक्रम के बल्लेबाजों को जिम्मेदारी लेकर खेलना होगा। 

पिछले मैच में बीच के ओवरों में युजवेंद्र चहल और अक्षर पटेल जैसे स्पिनरों ने अच्छा प्रदर्शन किया। अक्षर ने किफायती गेंदबाजी की तो चहल विकेट चटकाने में कामयाब रहे। तेज गेंदबाजों में भुवनेश्वर कुमार लगातार अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं। आवेश खान किफायती तो रहे लेकिन विकेट नहीं ले सके। हर्षल पटेल ने अपनी विविधता के दम पर चार विकेट चटकाए। 

दूसरी ओर दक्षिण अफ्रीका पिछली हार को भुलाकर जीत की राह पर लौटना चाहेगी। श्रृंखला में 2.1 से आगे चल रही दक्षिण अफ्रीकी टीम चाहेगी कि श्रृंखला का फैसला इसी मैच में हो जाए। स्टार बल्लेबाज क्विंटोन डिकॉक के कलाई की चोट से पूरी तरह उबरने की दुआ दक्षिण अफ्रीकी खेमा कर रहा होगा। तीसरे मैच में दक्षिण अफ्रीका के स्पिनर तबरेज शम्सी और केशव महाराज काफी महंगे साबित हुए। तेज गेंदबाज कैगिसो रबाडा ने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन उन्हें दूसरे छोर से सहयोग नहीं मिल सका और क्षेत्ररक्षण भी लचर रहा। 

टीमें : 

भारत : ऋषभ पंत (कप्तान और विकेटकीपर), रूतुराज गायकवाड़, इशान किशन, दीपक हुड्डा, श्रेयस अय्यर, दिनेश कार्तिक, हार्दिक पंड्या, वेंकटेश अय्यर, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, रवि बिश्नोई, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, आवेश खान, अर्शदीप सिंह और उमरान मलिक। 

दक्षिण अफ्रीका : तेम्बा बावुमा (कप्तान), क्विंटन डि कॉक (विकेटकीपर), रीजा हेंड्रिक्स, हेनरिच क्लासेन, केशव महाराज, ऐडन मार्कराम, डेविड मिलर, लुंगी एनगिडी, एनरिच नोर्किया, वेन पोर्नेल, ड्वेन प्रिटोरियस, कागिसो रबाडा, तबरेज शम्सी, ट्रिस्टन स्टब्स, रासी वान डर डुसेन और मार्को यानसेन। मैच भारतीय समयानुसार शाम सात बजे शुरू होगा। 

.
.
.
.
.