Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच पांच मैचों की टी20 सीरीज का चौथा राजकोट के मैच सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में खेला गया। दक्षिण अफ्रीका के कप्तान टेम्बा बावुमा ने एक बार फिर से टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी। टीम इंडिया की शुरूआत खराब रही। रुतुराज और श्रेयस सस्ते में सिमट गए। पंत भी चल नहीं पाए। लेकिन हार्दिक पांड्या के बाद दिनेश कार्तिक के अर्धशतक से टीम इंडिया निर्धारित ओवरों में 169 रन बनाने में कामयाब रही। जवाब में दक्षिण अफ्रीका की टीम आवेश खान के आगे टिक नहीं पाई। आवेश ने 4 तो युजी ने 2 विकेट लेकर दक्षिण अफ्रीका को 87 रन पर ही रोक दिया। भारत ने यह मैच 82 रन से जीता। अब सीरीज 2-2 की बराबरी पर आ गई है। पांचवां टी-20 निर्णायक होगा। 

भारत (पहली पारी)

रुतुराज फिर फेल

तीसरे टी-20 में अर्धशतक बनाकर क्रिकेट फैंस को ढांढस बंधाने वाले भारतीय ओपनर रुतुराज गायकवाड़ एक बार फिर से बड़ा स्कोर बनाने में फेल हो गए। रुतुराज को दूसरी ही ओवर में लुंगी नगिड़ी ने डिकॉक के हाथों कैच आऊट कराया। रुतुराज के बाद श्रेयस अय्यर (4) भी अगली ही ओवर में मार्को जेन्सन की गेंद पर पगबाधा आऊट हो गए।

 

फिर वाइड गेेंद का पीछा करते आऊट हुए पंत
पंत के लिए यह सीरीज अच्छी नहीं गई है। सीरीज के चौथे मैच में भी वह वाइड गेंद का पीछे करते हुए गलत शॉट लगा बैठे और अपना विकेट गंवा बैठे। लय ढूंढने में लगे पंत ने मैच में 23 गेंदों में दो चौकों की मदद से 17 रन बनाए। सीरीज में तीन बार वह स्पिनर का शिकार बने हैं। दो बार उन्हें केशव महाराज पवेलियन भेजने में सफल रहे।

 

हार्दिक पांड्या ने 148 की स्ट्राइक रेट से बनाए रन
टीम इंडिया के लिए सीरीज में हार्दिक पांड्या पॉजीटिव साइन लेकर आए हैं। उनका बल्ला लगातार चल रहा है। राजकोट टी-20 में भी हार्दिक ने तब पारी को संभाला जब 40 रन पर तीन विकेट गिर चुके थे। हार्दिक ने 31 गेंदों में तीन चौके और तीन छक्कों की मदद से 46 रन बनाए। उन्हें लुंगी नगिड़ी ने शम्सी के हाथों कैच आऊट कराया। 

 

दिनेश कार्तिक ने लगाया अर्धशतक
लंबे समय बाद टीम इंडिया में वापसी कर रहे दिनेश कार्तिक ने एक छोर संभालकर सीरीज का अपना पहला अर्धशतक जमाया। दिनेश ने शुरूआती गेंदों पर नपीतुली बल्लेबाजी की लेकिन अंत के ओवरों में तेजतर्रार तरीके से रन बटोरे। वह आखिरी ओवर में प्रिटोरियस की गेंद पर आऊट हुए। उन्होंने 26 गेंदों में नौ चौके और दो छक्कों की मदद से 55 रन बनाए। लेकिन तब तक टीम इंडिया 150 रन के स्कोर को पार कर चुकी थी। 


दक्षिण अफ्रीका (दूसरी पारी)


भुवी ने बावुमा को लाया बैकफुट पर
दक्षिण अफ्रीकी कप्तान टेम्बा बावुमा पारी की शुरूआत से ही बैकफुट पर दिखे। भुवनेश्वर कुमार की घुमावदार गेंदों को वह समझ नहीं पाए। भुवी ने दो बार बावुमा की बॉडी पर हिट किया। पहली बार अंगुलियों पर तो दूसरी बार उनका बाऊंसर बावुमा की छाती पर जा लगा। बावुमा इससे उभरे कि एक रन लेने के चक्कर में फील्डर का फेंका तेज थ्रो उनके हाथ पर लग गया। दर्द से करहा उठे बावुमा को रिटायर्ट हर्ट होना पड़ा।

 

डिकॉक, प्रिटोरियस हुुए फेल
दक्षिण अफ्रीका के लिए सीरीज में डिकॉक और प्रिटोरियस अच्छी पारियां खेल रहे थे लेकिन राजकोट टी-20 में इनके बल्ले से ज्यादा रन नहीं निकल पाए। डिकॉक जहां 13 गेंदों में दो चौकों की मदद से 14 रन बनाकर रन आऊट हो गए तो वहीं, ड्वेन प्रिटोरियस को आवेश खान ने शून्य पर पंत के हाथों कैच आऊट कराया। 

 

चहल और हर्षल ने निकाले क्लासेन-मिलर के विकेट
दक्षिण अफ्रीका की टीम भारतीय गेंदबाजों के आगे दबाव में आ गई। इसी दबाव का फायदा उठाते हुए युजी चहल ने हेनरिक क्लासेन को 8 रन पर बोल्ड कर दिया। इसके बाद तेज गेंदबाज हर्षल पटेल ने भी डेविड मिलर को बोल्ड कर दक्षिण अफ्रीका की बची उम्मीदें भी तोड़ दीं। 

 

आवेश की गेंद जेन्सन के हेल्मेट पर लगी
टीम इंडिया के लिए आवेश खान का फेंका गया 14वां ओवर खास रहा। आवेश ने खरतनाक नजर आ रहे वेन दूसें को 20 रन पर पवेलियन का रास्ता दिखाया। इसके बाद उनकी एक गेंद मार्को जेन्सन के हेल्मेट पर जा लगी। गेंद लगने से मार्को सुधबुध खो बैठे। फिजियो ने मैदान पर आकर उनका हाल जाना। इस दौरान टीम इंडिया के प्लेयर भी उनके आसपास दिखे। जेन्सन इस दबाव को झेल नहीं पाए और अगली ही गेंद पर छक्का उड़ाने के चक्कर में रुतुराज के हाथों लपके गए। आवेश यही नहीं रुके, ओवर की आखिरी गेंद पर उन्होंने महाराज को भी पवेलियन का रास्ता दिखा दिया। आखिर में चहल और अक्षर पटेल ने 1-1 विकेट लेकर साऊथ अफ्रीका की पारी सिमेट दी। अफ्रीकी कप्तान बावुमा चोट लगने के कारण दोबारा बल्लेबाजी नहीं कर करने आए।

 

प्लेइंग 11 

भारत :  रुतुराज गायकवाड़, ईशान किशन, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत (w/c), हार्दिक पांड्या, दिनेश कार्तिक, अक्षर पटेल, हर्षल पटेल, भुवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल, अवेश खान

दक्षिण अफ्रीका : टेम्बा बावुमा (C), क्विंटन डी कॉक (W), रस्सी वैन डेर डूसन, डेविड मिलर, हेनरिक क्लासेन, ड्वेन प्रिटोरियस, केशव महाराज, मार्को जेनसेन, लुंगी एनगिडी, तबरेज़ शम्सी, एनरिक नॉर्टजे

.
.
.
.
.