Sports

नई दिल्ली : ऑकलैंड के मैदान पर एक बार फिर से भारतीय टीम के हाथों हार झेलने से कीवी कप्तान केन विलियमसन नाखुश दिखे। उन्होंने पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन के दौरान कीवी प्लेयरों द्वारा की जा रही गलतियों पर चर्चा की। विलियमसन ने कहा कि यह दिन ही हमारे लिए कठिन था। हमें मैच में बने रहने के लिए 15-29 रनों की और जरूरत थी। अगर यह होते तो हम प्रैशर बना सकते थे। उन्होंने भारतीय गेंदबाजों को भी श्रेय दिया। उन्होंने कहा कि टीम इंडिया के बॉलर काफी अच्छे थे। उन्होंने हमे खुलकर खेलने का मौका नहीं दिया। नतीजा यह हुआ कि हम बड़े स्कोर की ओर नहीं जा पाए।

विलियमसन ने कहा कि बल्लेबाजी करते वक्त मुझे पिच पर समय गुजारने की जरूरत थी। हम पार्टनरशिप कर तो रहे थे लेकिन नियमित अंतराल पर गिरते विकेटों ने हमारा टारगेट छोटा कर दिया। हमने गलत मौकों पर विकेट गंवाए जिसका असर यह हुआ कि हम 15-20 रन कम पड़ गए। इसी बात का टीम इंडिया ने फायदा उठाया।

विलियमसन बोले- टीम इंडिया इस फॉर्मेट में अन्य की तरह मजबूत है। हम ऐसा उनका मुकाबला नहीं कर सकते। इसके लिए हमें सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलना होगा। अगला मैच सीरीज डिसाइडर होगा ऐसे में हमें अच्छा क्रिकेट ही खेलना होगा। हमें एक ग्रुप की तरह आगे बढऩा होगा क्योंकि टीम इंडिया इस मामले में काफी आगे है।

बता दें कि पांच टी-20 मैचों की सीरीज में न्यूजीलैंड की टीम अभी 0-2 से पीछे चल रही है। ऑकलैंड में ही खेला गया पहला मैच भारतीय टीम ने छह विकेट से जीत लिया था। आज दोबारा टीम इंडिया ने 7 विकेट से जीत हासिल कर ली है। न्यूजीलैंड को सीरीज में वापसी के लिए अगला मैच जीतना ही पड़ेगा।

.
.
.
.
.