Sports

पेरिस : छठी बार फीफा के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार जीतने वाले 32 बरस के लियोनेल मेस्सी ने कहा कि वह उम्र को अपने खेल के आड़े नहीं आने देंगे। अमेरिका की विश्व कप सुपरस्टार मेगान रोपिनो ने महिला वर्ग में पुरस्कार जीता। मेगान पुरस्कार लेने नहीं पहुंच सकी लेकिन मेस्सी अपनी पत्नी और दोनों बच्चों के साथ आए थे। यह 2015 के बाद मेस्सी का पहला ‘बलून डीओर' पुरस्कार और कैरियर का रिकार्ड छठा पुरस्कार है।

मेस्सी ने पिछले साल के विजेता लूका मोडरिच से पुरस्कार लेने के बाद कहा, ‘मैंने 10 साल पहले पहली बार यह खिताब जीता था। मैं 22 बरस का था और अपने तीनों भाइयों के साथ यहां आया था। मेरे लिए यह सपने जैसा था।' उन्होंने कहा, ‘सब कुछ ठीक रहा तो मुझे लगता है कि कुछ साल और खेल सकता हूं। समय मानो उड़ रहा है और सब कुछ अचानक हो रहा है। मुझे उम्मीद है कि यूं ही खेल का मजा लेता रहूंगा।' 

दुनिया भर के पत्रकारों के पैनल के मतदान से चुने गए पुरस्कार में मेस्सी ने लीवरपूल के डिफेंडर वर्जिल वान डिक को पछाड़ा जबकि क्रिस्टियानो रोनाल्डो तीसरे स्थान पर रहे। पिछले 9 साल में पहली बार रोनाल्डो शीर्ष 2 में जगह नहीं बना सके। सादियो माने चौथे और मोहम्मद सालाह पांचवें स्थान पर रहे। 

.
.
.
.
.