Sports

नई दिल्ली : भारत के सर्वश्रेष्ठ स्पिनरों में शुमार हरभजन सिंह ने शुक्रवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों को अलविदा कह दिया लेकिन उनका अंतरराष्ट्रीय करियर कई शानदार और यादगार उपलब्धियों से भरा है। उन्होंने 103 टेस्ट में 417 विकेट लिए है और इस प्रारूप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों की वैश्विक सूची में 14वें स्थान पर है। वह भारत के चौथे सफल टेस्ट गेंदबाज है। उनसे ज्यादा विकेट अनिल कुंबले (619), कपिल देव (434) और रविचंद्रन अश्विन (427) के नाम है। 

PunjabKesari

टेस्ट में प्रतिस्पर्धी देशों के खिलाफ सबसे ज्यादा विकेट

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 18 मैचों में  95 विकेट
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 11 मैचों में 60 विकेट
वेस्टइंडीज के खिलाफ 11 मैचों में 56 विकेट
श्रीलंका के खिलाफ 16 मैचों में 53 विकेट
इंग्लैंड के खिलाफ 14 मैचों में 45 विकेट  

सबसे सफल टेस्ट सीजन
साल 2002 : 13 टेस्ट में 63 विकेट (5 बार 5 या उससे अधिक विकेट)
साल 2001 : 12 टेस्ट में  60 विकेट (6 बार 5 विकेट या अधिक, मैच में 2 बार 10 या उससे अधिक विकेट)  

टेस्ट पारी में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी

18 मार्च 2001: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 84 रन देकर 8 विकेट  
वनडे पदार्पण : 17 अप्रैल 1998, शारजाह में न्यूजीलैंड के खिलाफ 

वनडे में प्रतिस्पर्धी देशों के खिलाफ सबसे ज्यादा विकेट 

श्रीलंका के खिलाफ 47 मैच में 61 विकेट 
इंग्लैंड के खिलाफ 23 मैचों में 36 विकेट
वेस्टइंडीज के खिलाफ 31 मैचों में 33 विकेट
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 35 मैचों में 32 विकेट
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 24 मैचों में 31 विकेट
 
हरभजन ने 28 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 25 विकेट लिए हैं। 

.
.
.
.
.