Sports

हैदराबाद : अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खेलने की अपनी संभावनाओं को बनाए रखने के लिए हैदराबाद छोड़कर आंध्र की टीम से जुड़ने वाले भारत के टेस्ट विशेषज्ञ हनुमा विहारी आगामी घरेलू सत्र के लिए पांच सत्र बाद अपनी मूल टीम में वापसी करेंगे। भारतीय क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर के शिष्य विहारी 2015-16 सत्र में हैदराबाद छोड़कर आंध्र से जुड़ गए थे। उस समय चयनसमिति के तत्कालीन अध्यक्ष एमएसके प्रसाद ने उनके सामने आंध्र की कप्तानी की पेशकश की थी।

अब हैदराबाद क्रिकेट संघ का संचालन पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरूद्दीन कर रहे हैं तो विहारी फिर से हैदराबाद की तरफ से खेलते हुए नजर आएंगे। इस 27 वर्षीय खिलाड़ी ने स्वयं ही ट्विटर पर इसकी घोषणा की। विहारी ने लिखा कि मैं आपको सूचित कर रहा हूं मैं अच्छे रिश्तों के साथ आंध्र क्रिकेट संघ से अलग होने जा रहा हूं। मुझे पिछले पांच वर्षों में आंध्र का प्रतिनिधित्व करने और उसकी कप्तानी करने का सम्मान मिला।

उन्होंने कहा कि मैं आगामी सत्र में हैदराबाद क्रिकेट संघ का हिस्सा रहूंगा। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने 94 प्रथम श्रेणी मैचों में 55 की औसत से 7261 रन बनाए हैं जिसमें 21 शतक भी शामिल है। उन्होंने 80 लिस्ट ए मैच भी खेले हैं। विहारी ने 12 टेस्ट मैचों में 624 रन बनाए हैं जिसमें उनका उच्चतम स्कोर 111 रन है। उन्होंने 2018 में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था।  

.
.
.
.
.