Sports

नयी दिल्ली : महान खिलाड़ी सुनील गावस्कर की ‘द चैंप्स फाउंडेशन’ ने हॉकी ओलंपियन मोहिंदर पाल सिंह की मदद की जो पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे हैं। उनकी यह संस्था दो दशक से ज्यादा समय से उन खिलाड़ियों की मदद कर रही है जो वित्तीय समस्याओं से जूझ रहे होते हैं। एमपी सिंह के नाम से मशहूर मोहिंदर पाल सिंह किडनी की बीमारी से ग्रसित हैं और वह डाइलिसिस पर हैं और प्रत्यारोपण के लिये ‘डोनर’ का इंतजार कर रहे हैं।

जब गावस्कर से संपर्क किया गया तो उन्होंने सीएचएएमपीएस ‘चैंप्स’ फाउंडेशन के बारे में कहा- मैं मीडिया में पढ़ता रहता था कि पूर्व ओलंपियन और अंतरराष्ट्रीय पदकधारियों बाद में कितनी मुश्किलों का सामना करते। उन्होंने कहा, ‘‘एम पी सिंह के स्वास्थ्य की सूचना भी मुझे मीडिया (अखबार) से मिली। एमपी सिंह उस भारतीय हॉकी टीम का अहम हिस्सा थे जिसने 1988 सोल ओलंपिक में हिस्सा लिया था। वह मोहम्मद शाहिद, एमएम सोमाया, जूड फेलिक्स, परगट सिंह के साथ खेल चुके हैं।

पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान ने कहा कि ऐसी कोई संस्था नहीं थी जो पूर्व स्टार खिलाड़ियों की मदद करे। उन्होंने कहा- शिक्षा, स्वास्थ्य, बच्चों और वृद्ध नागरिकों के लिये काफी संस्थायें हैं लेकिन पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के लिये कोई नहीं है इसलिये मैंने निजी योगदान के साथ एक फाउंडेशन बनाने का सोचा। तब हमने 1983 विश्व कप टीम के सदस्यों के साथ ‘डबल विकेट टूर्नामेंट’ आयोजित किया था जिसमें एक उद्योगपति और एक कोरपोरेट प्रमुख ने दान किया। अब तक इस फाउंडेशन ने 21 पूर्व खिलाड़ियों की मदद की है जिसमें मासिक सहायता के अलावा उनका चिकित्सा खर्चों की देखभाल करना शामिल है।

.
.
.
.
.