Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली भारत की बेंच स्ट्रेंथ से प्रभावित हैं और इसके लिए उन्होंने अपने पूर्व साथी खिलाड़ी और मौजूदा नेशनल क्रिकेट अकादमी के प्रमुख राहुल द्रविड़ को पूरा श्रेय दिया। गांगुली ने कहा कि एनसीए प्रमुख के रूप में द्रविड़ ने पूरे समर्पण के साथ अपनी भूमिका निभाई है। द्रविड़ जुलाई 2019 में एनसीए के प्रमुख नियुक्त बने थे। 

हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान गांगुली ने कहा, राहुल द्रविड़ ने एनसीए में शानदार प्रदर्शन किया है, वहीं मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर दोनों में गांगुली को एक अलग प्रतिभा नजर आती है। बीसीसीआई अध्यक्ष ने बताया कि सिराज ने अपनी तेज गेंदबाजी से टेस्ट डेब्यू पर 3/37 और 2/40 रन बनाए, इसके बाद ब्रिस्बेन में फाइनल मैच में पांच विकेट से जीत दर्ज की। जबकि दूसरी ओर शार्दुल ने अपने डेब्यू के दम पर मैच में सात विकेट चटकाए और बल्ले से अहम 67 रन बनाए। गांगुली ने कहा कि पिछले साल सभी ने बुमराह के बारे में बात की थी, लेकिन भारत उसके बिना भी जीतता है। ऑस्ट्रेलिया में आखिरी टेस्ट मैच में शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद सिराज ने टीम को जीत दिलाई है। 

गांगुली दिल के दौरे के बाद एंजियोप्लास्टी कराने के बाद कोलकाता में अपने निवास पर आराम कर रहे हैं। वह जानते हैं कि 27 मार्च से 29 अप्रैल तक होने वाले आठ चरण के चुनावों से पहले उनके राजनीति में विशेषकर भाजपा से जुड़ने की अटकलें चल रही हैं। गांगुली से जब पूछा गया कि क्रिकेट प्रशासन के बाद अगला क्या? तो उन्होंने कहा, ‘देखते हैं आगे क्या होता है, कैसा मौका आता है, हम इसी से फैसला करेंगे।’ 

.
.
.
.
.