Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर और उनके बचपन के दोस्त विनोद कांबली फ्रेंडशिप डे के इस खास मौके को एंज्वाय कर रहे हैं। भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके ये दोनों खिलाड़ी अपनी दोस्ती के कारण भी मशहूर हैं। हालांकि एक दौर ऐसा भी था जब इन दोनों के रिश्तों में दरार आ गई थी लेकिन एक बार फिर से दोनों जिगरी दोस्त बन गए। फ्रेंडशिप डे के मौके पर सचिन ने कांबली के साथ अपनी बचपन की एक फोटो शेयर की है। इसी के साथ ही उन्होंने एक वीडियो भी शेयर की है। 

 

सचिन ने शेयर की बचपन की तस्वीर

सचिन ने तस्वीर शेयर करते हुए लिखा है- कांब्लया, स्कूल के दिनों की यह तस्वीर मुझे मिली है। पुरानी यादें फिर से ताजा हो गईं, इसलिए इस तस्वीर को साझा कर रहा हूं। सचिन द्वारा बचपन की यादों को ताजा करने के बाद कांबली भी कहां पीछे रहने वाले थे और उन्होंने भी एक मजेदार किस्सा शेयर कर दिया।

 

कांबली ने शेयर किया किस्सा

विनोद ने कहा कि याद है जब हम बल्लेबाजी कर रहे थे और पिच पर पतंग आ गई थी। इसके बाद मैंने बैटिंग छोड़कर पतंग उड़ानी शुरू कर दी थी। आपने आचरेकर सर को मेरे तरफ आते हुए देखा और मुझे नहीं बताया था। फिर याद है ना क्या हुआ था। अंत में कांबली ने गुस्से वाली इमोजी का भी इस्तेमाल किया। 

 

इस पर सचिन का रिप्लाई

इस पर सचिन ने रिप्लाई करते हुए कहा कि उन दिनों को भला कैसे भूल सकते हैं। बचपन के वह खेल के दिन काफी याद आते हैं। आप आइए हम कुछ मजेदार करेंगे। 

फोटो के अलावा शेयर किया गेम खेलने वाला वीडियो

 

8 साल तक नहीं की थी एक दूसरे से बात 

सचिन और कांबली की दोस्ती में एक बार दरार भी आ गई थी। जुलाई 2009 में कांबली ने एक टीवी शो में कहा था कि सचिन ने उन्हें क्रिकेट में वापसी के लिए मदद नहीं की। कांबली के इस बयान के बाद दोनों के रिश्तों में दरार आ गई थी और सचिन को ये बात इतनी बुरी लगी कि उन्होंने 2013 में जब 200वां टेस्ट खेलने के बाद रिटायरमेंट लिया तो वानखेड़े स्टेडियम में स्पीच में सभी का नाम तो लिया लेकिन कांबली का जिक्र नहीं किया। 8 साल बाद 2017 में दोनों के बीच सब ठीक हो गया।

.
.
.
.
.