Sports

अबुधाबी : भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और पूर्व मुख्य चयनकर्ता के श्रीकांत ने केदार जाधव के चयन पर चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी की आलोचना करते हुए पूछा कि उन्हें इस खिलाड़ी में कौन सा ‘प्रभाव' नजर आया। श्रीकांत धोनी की उस टिप्पणी पर सवाल कर रहे थे जिसमें उन्होंने कहा चेन्नई सुपर किंग्स टीम में शामिल युवाओं ने सीनियर्स को चुनौती देने और अंतिम 11 में जगह बनाने के लिए जरूरी जोश नहीं दिखाया।

PunjabKesari

श्रीकांत ने कहा कि धोनी जिस प्रक्रिया के बारे में बात कर रहे हैं मैं उसे कभी स्वीकार नहीं करूंगा। वह जिस प्रक्रिया के बारे में वह बात कर रहे हैं वो अर्थहीन है। आप प्रक्रिया के बारे में बात करते रहते हैं लेकिन आपकी चयन की प्रक्रिया ही गलत है। धोनी क्या कहना चाहते हैं? वह कह रहे हैं कि (एन) जगदीशन (विकेटकीपर-बल्लेबाज) प्रभावित नहीं कर सके, लेकिन क्या ‘स्कूटर' जाधव के पास वह प्रभाव है? यह क्या मजाक लग रहा है।

PunjabKesari

मैं आज इस जवाब को स्वीकार नहीं करूंगा। इस प्रक्रिया की बात तब हो रही है जब चेन्नई के लिए टूर्नामेंट ही खत्म हो गया है। जगदीशन ने टूर्नामेंट में सिर्फ एक मैच खेला है। आईपीएल के शुरुआती सत्र में टीम के ब्रांड दूत और मेंटोर रहे श्रीकांत ने लेग स्पिनर पीयूष चावला के चयन पर भी सवाल उठाया। धोनी से इससे पहले कहा था कि इस सत्र में हमारा वह स्तर नहीं था। इसके साथ ही युवाओं ने प्रभावित नहीं किया।

.
.
.
.
.