Sports

नॉटिंघम : फुटबॉल प्रशंसक रॉबर्ट बिग्स ने नॉटिंघम फॉरेस्ट के खिलाफ चैंपियनशिप प्ले आफ मुकाबले के समाप्त होने के बाद शेफील्ड यूर्नाटेड के स्ट्राइकर बिली शार्प पर हमला करने के मामले में दोष स्वीकार कर लिया। तीस साल का बिग्स मंगलवार को मैच के बाद सिटी ग्राउंड में घुस आया और उसने शार्प पर सिर से प्रहार किया। चोट के कारण शार्प इस मुकाबले में नहीं खेल रहे थे। वह मैदान के बाहर अपनी जेब में हाथ डालकर खड़े थे जब बिग्स ने उन प्रहार किया जिसके कारण उनके होंठ पर चार टांके आए।

बिग्स सुनवाई के लिए नॉटिंघम मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश हुआ और अपराध स्वीकार कर लिया जिसे अभियोजकों ने ‘जानबूझकर किया गया हिंसा का मूर्खतापूर्ण कार्य’ करार दिया है। सुनवाई के दौरान बिग्स को बताया गया कि उसके खिलाफ लगे गैरकानूनी रूप से मैदान पर घुसने के आरोप को हटा दिया गया है। बिग्स ने उन पर आजीवन प्रतिबंध लगाने वाले आवेदन का विरोध नहीं किया है। फॉरेस्ट की टीम पहले ही कह चुकी है कि जिसने भी शार्प पर हमला किया है उस पर आजीवन प्रतिबंध लगना चाहिए।

.
.
.
.
.