Sports

 

साउथम्पटन : अफगानिस्तान के खिलाफ विश्व कप मुकाबले में हैट्रिक लेने वाले भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने कहा कि बुमराह ने 49वें ओवर में कसी हुई गेंदबाजी की जिससे वह मुकाबले की आखिरी छह गेंदों को अपनी योजना के मुताबिक फेंक पाए। चोटिल भुवनेश्वर कुमार की जगह पाने वाले शमी विश्व कप में हैट्रिक लेने वाले दूसरे भारतीय गेंदबाज है। उन्होंने अफगानिस्तान के खिलाफ चार विकेट चटकाए। अफगानिस्तान को जीत के लिए 12 गेंद में 21 रन चाहिए थे लेकिन बुमराह ने 49वें ओवर में सिर्फ पांच रन दिये जिसके बाद शमी के सामने 16 रन बचाने की चुनौती थी।

शमी ने बीसीसीआई डॉट टीवी पर बुमराह से कहा, ‘मुझे आप पर भरोसा था कि आप ज्यादा रन (49वें ओवर में) नहीं देंगे। अंदर से मुझे लग रहा था कि 16 रन मेरे लिए काफी है। इस लिए मैच अपनी योजना के मुताबिक गेंदबाजी कर पाया। उन्होंने कहा, ‘अगर इससे कम रनों का बचाव करना होता तो मुझे अपनी योजना को लागू करने में परेशानी आती।' चेतन शर्मा विश्व कप में हैट्रिक लेने वाले पहले भारतीय है जिन्होंने 1987 में यह उपलब्धि हासिल की थी। शमी ने कहा, ‘ऐसा कर के अच्छा लग रहा। हैट्रिक लेना बड़ी बात है और विश्व कप में ऐसा करना और भी बेहतर है। हमने बीच के ओवरों में थोड़े ज्यादा रन दिए लेकिन मुझे भरोसा था कि अंतिम 10 ओवरों में हम मैच का रूख पलट देंगे।' 

 

.
.
.
.
.