Sports

नई दिल्ली : ऐसा पहली बार हुआ जब डेविड वार्नर की कप्तानी में सनराइजर्स हैदराबाद को किंग्स इलेवन पंजाब के हाथों हार झेलनी पड़ी। वार्नर पिछले नौ पारियों से पंजाब के खिलाफ अर्धशतक लगा रहे थे लेकिन इस मैच में वह अर्धशतक लगाने से चूक गए। ऊपर से अच्छी शुरुआत के बावजूद बुरी तरह बिखरे मध्यक्रम पर वह मैच के बाद निराश दिखे। पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन के दौरान उन्होंने कहा- हां, यह बहुत चोट करता है। हमारे गेंदबाजों ने उन्हें रोकने के लिए शानदार प्रदर्शन किया था। हमारी शुरुआत अच्छी थी लेकिन इसके बाद हमने अपना पैर पेडल से हटा लिया। 

वार्नर बोले- एक बार स्पिन आने के कारण इस विकेट पर खेलना मुश्किल हो रहा था। हमारे लिए यह दबाव अपफ्रंट लगाने की कोशिश करने के बारे में था, स्विंग गेंदबाजी को नकारना था, लेकिन जाहिर है हम लाइन में नहीं लगे। हमारे गेंदबाजों ने नई गेंद के साथ अच्छी गेंदबाजी की। सभी को विकेट नहीं मिले, लेकिन हम इसमें अच्छे थे। आज हमारे गेंदबाजों ने अच्छी तरह से योजनाओं को अंजाम दिया, उनसे बहुत खुश हैं। बस इस खेल को भूलकर आगे बढऩा होगा।

बता दें कि सनराइजर्स हैदराबाद टीम ने सीजन में 11 मैचों में से सात मैच गंवा दिए हैं। इसका मतलब यह है कि अब उनके पास प्लेऑफ तक पहुंचने के चांस कम हो गए हैं। अगर हैदराबाद अपने बचे तीनों मैच बड़े अंतर से जीतता है तो भी उन्हें कोलकाता और पंजाब की हार का इंतजार करना पड़ेगा। 

.
.
.
.
.