Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : चीन में फैले कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप का असर टोक्यो ओलंपिक पर देखने को मिल सकता है। अगर मई के अंत तक कोरोना वायरस पर काबू नहीं पाया जाता तो टोक्यो ओलंपिक रद्द किया जा सकता है। ये फैसला अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक कमेटी (आईओसी) ने लिया है। जानकारी के मुताबिक कोरोना वायरस के कारण ओलंपिक खेल का समय नहीं बल्कि खेल को ही रद्द कर दिया जाएगा। 

टोक्यो ओलंपिक 24 जुलाई से 9 अगस्त तक होगा। लेकिन कोरोना वायरस के कारण पहले से ही चीन में मुक्केबाजी और बैडमिंटन की ओलंपिक क्वालिफाइंग इवेंट रद्द हो चुकी हैं। वहीं दक्षिण कोरिया में प्रस्तावित टेबल टेनिस टीम विश्व चैंपियनशिप को भी टाल दिया गया है। इस बारे में अंतरराष्ट्रीय टेबल टेनिस महासंघ ने कहा कि बुसान में 22 से 29 मार्च तक प्रस्तावित चैंपियनशिप को टालने का फैसला किया है और ये टूर्नामेंट अब टोक्यो ओलंपिक से एक महीने पहले 21 जून से 28 जून तक कराने की योजना है। 

इस बारे में पूर्व ओलंपिक चैंपियन और आईओसी के सदस्य तैराक डिक पाउंड ने कहा कि हमारे पास 3 महीने का समय है। इस दौरान टोक्यो ओलंपिक के भविष्य पर फैसला लिया जाएगा। मई के समय काफी तैयारियां अपने अंतिम रूप में होंगी। तैयारियां पूरी होने से पहले ही हम फैसला करेंगे कि क्या यह खेल होंगे या नहीं। 

.
.
.
.
.