Sports

मस्कट : पूर्व आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ब्रेट ली तेज गेंदबाजों के लिए कार्यभार प्रबंधन की नीति के पूरी तरह खिलाफ हैं जो व्यस्त अंतरराष्ट्रीय कैलेंडर में एक चलन बन गया है। व्यस्त कार्यक्रम के अलावा कोविड-19 महामारी के बीच ‘बायो-बबल' की जिंदगी का असर भी क्रिकेटरों पर पड़ा है जिससे उन्हें खेल से दूर रहने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। 

ली ने ‘लीजेंड्स क्रिकेट लीग' के मौके पर कहा कि मैं इस आराम देने के नियम के खिलाफ हूं। मुझे गेंदबाजों को आराम देना पसंद नहीं है, मैं गेंदबाजों को प्रत्येक मैच खेलते देखना पसंद करूंगा। मोहम्मद शमी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सफेद गेंद की श्रृंखला में नहीं खेले जिसमें भारत को 0-3 से हार का सामना करना पड़ा। चयनकर्ताओं ने शमी और जसप्रीत बुमराह की भारतीय तेज गेंदबाजी जोड़ी को वेस्टइंडीज के खिलाफ आगामी घरेलू श्रृंखला के लिए भी आराम दिया है जिसमें तीन वनडे और तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच शामिल हैं।

लेकिन पूर्व आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ली ने कहा कि एक तेज गेंदबाज को सिर्फ तभी आराम दिया जाना चाहिए, जब उसे कोई चोट हो। ली ने कहा कि अगर वे चोट से जूझ रहे हों तभी यह (आराम देना) ठीक है। लेकिन मैं तेज गेंदबाजों को कड़ी मेहनत करते और हर वक्त खेलते हुए देखना चाहता हूं। दक्षिण अफ्रीका से भारत को टेस्ट में मिली हार के बारे में बात करते हुए ली ने कहा कि उन्हें लगता है कि यह उम्मीद के विपरीत रहा क्योंकि यह वही टीम थी जिसने आस्ट्रेलिया को उसकी मांद में हराया था और फिर इंग्लैंड के खिलाफ भी 2-1 से बढ़त बना ली थी। 

उन्होंने कहा कि देखिए, कभी कभार ऐसा होता है। वे काफी अच्छा क्रिकेट खेल रहे हैं। आस्ट्रेलिया में वे जिस तरह से खेले, उसकी घरेलू सरजमीं पर उसे हरा दिया और फिर इंग्लैंड में। आस्ट्रेलियाई टीम इस समय दुनिया की नंबर एक टीम है। लेकिन भारत बहुत अच्छी टेस्ट टीम रही है। दक्षिण अफ्रीका में ऐसा हुआ कि मेजबान टीम ने अपनी सरजमीं पर वास्तव में काफी शानदार श्रृंखला खेली। 

दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट और वनडे में लगातार श्रृंखला गंवाना विराट कोहली के सभी प्रारूपों की कप्तानी से हटने और बीसीसीआई के साथ टकराव के विवाद के बाद हुआ। यह पूछने पर कि क्या मैदान के बाहर हुए विवाद का असर भारत के प्रदर्शन पर पड़ा तो ली ने इस पर चुप्पी बनाए रखना पसंद किया। हाल में आस्ट्रेलिया ने एशेज श्रृंखला में 4-0 से जीत दर्ज की जिसमें पैट कमिंस ने टीम की कप्तानी की जिम्मेदारी संभाली क्योंकि टिम पेन ने ‘सेक्सटिंग प्रकरण' के बाद पद से हटने का फैसला किया था। कमिंस की तारीफ करते हुए ली ने कहा कि हम 4-0 से जीते। मुझे लगता है कि उसने काफी अच्छा काम किया। मुझे लगता है कि उसकी कप्तानी काफी प्रभावी रही और उसे अपने चारों ओर कुछ शानदार लोगों (खिलाड़ियों) का समर्थन मिला। 

.
.
.
.
.