T20-world-cup-2021
Sports

एडीलेड : भारतीय क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दिन-रात्रि टेस्ट मैच तीसरे ही दिन गंवा लिया है। शनिवार को पहले सत्र में अपने इतिहास के रिकॉर्ड न्यूनतम स्कोर 36 रन पर टीम इंडिया ढेर हो गई थी। ऑस्ट्रेलिया के सामने 90 रन का लक्ष्य था। जिसे ऑस्ट्रेलिया ने महज दो विकेट गंवाकर हासिल कर लिया। ऑस्ट्रेलिया की ओर से दूसरी पारी में जो बन्र्स ने 51, मैथ्यू वेड ने 33 रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया को लक्ष्य तक पहुंचा दिया। अब भारतीय टीम चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 0-1 से पीछे हो गई है।

भारत ने 20 जून 1974 को लॉडर्स मैदान में इंग्लैंड के खिलाफ 42 रन का स्कोर बनाया था। उसके बाद जाकर भारत ने अब अपने सबसे न्यूनतम स्कोर का रिकॉर्ड बना दिया है। भारत की दूसरी पारी में नौ विकेट पर 36 रन बने और मोहम्मद शमी चोटिल होने के कारण रिटायर हुए और उसके साथ ही भारत की पारी समाप्त हो गई। भारत को पहली पारी में 53 रन की बढ़त थी और उसने कल के 6 ओवर में एक विकेट पर नौ रन से आगे खेलना शुरू किया और उसकी पारी ताश के पत्तों की तरह ढह गयी। भारत ने 21.2 ओवर में अपने नौ विकेट 36 रन पर गंवा दिए जबकि मोहम्मद शमी को चोट लगने के कारण मैदान से बाहर जाना पड़ा और भारत की पारी शर्मनाक रुप से 36 रन पर सिमट गई।

Cricket, AUS v IND 1st Test, AUS v IND, Cricket News Hindi, Australia vs India 1st Test, India tour of Australia

भारत ने इस तरह 46 साल पुराना अपना न्यूनतम स्कोर का रिकॉर्ड तोड़ डाला। भारत ने अब ऑस्ट्रेलिया को पहला टेस्ट जीतने के लिए कुल 90 रन का लक्ष्य दिया है। किसी को उम्मीद नहीं थी कि भारतीय पारी का इस कदर पतन हो जाएगा लेकिन ऑस्ट्रेलिया के तेग गेंदबाजों ने गुलाबी गेंद से कहर बरपाते हुए भारतीय क्रिकेट इतिहास को ही तहस-नहस कर डाला। शुक्रवार को सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ चार रन बनाकर आउट हुए थे जबकि तीसरे दिन शनिवार को बुमराह मात्र दो रन बनाकर पैट कमिंस का शिकार बने। बुमराह का विकेट 15 रन के स्कोर पर गिरा। इसके बाद भारत के सात विकेट महज 16 रन पर ही गिर गए। 

Sports

भारत की ओर से पुजारा भी कुछ कमाल नहीं दिखा सके और आठ गेंदें खेल बिना खाता खोले कमिंस की गेंद पर टिम पेन को कैच थमाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल को जोश हेजलवुड ने पेन के हाथों कैच कराकर आउट किया। मयंक ने 40 गेंदों में एक चौके की मदद से नौ रन बनाए। उपकप्तान अजिंक्या रहाणे भी ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिक सके और हेजलवुड की गेंद पर विकेट के पीछे पेन ने उनका कैच लपका। रहाणे खाता खोले बिना आउट हुए। कप्तान विराट कोहली ने भी अपनी बल्लेबाजी से निराश किया और वह पैट कमिंस की गेंद पर कैमरुन ग्रीन को कैच पकड़ाकर चलते बने। विराट ने आठ गेंदों में एक चौके के सहारे चार रन बनाए।

Cricket, AUS v IND 1st Test, AUS v IND, Cricket News Hindi, Australia vs India 1st Test, India tour of Australia

मध्यक्रम के बल्लेबाज हनुमा विहारी भी कुछ करिश्मा नहीं कर सके और हेजलवुड ने पेन के हाथों कैच कराकर उनकी पारी का अंत किया। हनुमा ने 22 गेंदों में एक चौके की मदद से आठ रन बनाए। विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्दिमान साहा को भी हेजलवुड ने पवेलियन का रास्त दिखाया और उन्होंने चार रन बनाए। रविचंद्रन अश्विन पहली गेंद पर हेजलवुड का शिकार बने और खाता खोले बिना आउट हुए। उमेश यादव पांच गेंदों में एक चौके की मदद से चार रन बनाकर नाबाद रहे जबकि चोट के कारण मैदान से बाहर गए जसप्रीत बुमराह ने एक रन बनाए।

भारत ने इस तरह टेस्ट क्रिकेट इतिहास का संयुक्त रुप से पांचवां सबसे न्यूनतम स्कोर बनाया। तेज गेंदबाजों जोश हेजलवुड ने पांच ओवर में आठ रन देकर पांच विकेट और कमिंस ने 10.2 ओवर में 21 रन देकर चार विकेट झटके। भारत ने जब पहले सत्र में अपनी पारी आगे बढ़ाई तो किसी को उम्मीद नहीं थी कि भारतीय पारी का ऐसा शर्मनाक पतन हो जाएगा। कल के नाबाद बल्लेबाजों मयंक अग्रवाल और नाइट वॉचमैन जसप्रीत बुमराह ने पारी को आगे बढ़ाया। लेकिन 15 के स्कोर पर भारत को एक के बाद एक चार झटके लगे।

Cricket, AUS v IND 1st Test, AUS v IND, Cricket News Hindi, Australia vs India 1st Test, India tour of Australia

पहले बुमराह आउट हुए और उसके बाद पुजारा, मयंक और रहाणे भी उनके पीछे-पीछे पवेलियन लौट गए। भारत का एक झटके में स्कोर पांच विकेट पर 15 रन हो गया। रही-सही कसर कप्तान विराट के 19 रन के स्कोर पर आउट होने के साथ पूरी हो गई। छह विकेट गिर जाने के बाद अब यही देखना बाकी रह गया था कि भारत 42 रन के अपने न्यूनतम स्कोर को पार कर पाता है या नहीं। लेकिन विराट की टीम इंडिया 36 रन पर ही ठिटक गई।

भारत ने 15.2 ओवर के खेल में अपने आठ विकेट गंवाए। हेजलवुड ने मयंक, रहाणे, हनुमा, साहा और अश्विन के विकेट लिए जबकि कमिंस ने पृथ्वी, बुमराह, पुजारा और विराट को आउट किया।

.
.
.
.
.