Sports

मामल्लापुरम, 27 जुलाई ( निकलेश जैन ) भारत गुरुवार से यहां शुरू होने वाले 44वें शतरंज ओलिम्पियाड में  खिताब के प्रबल दावेदार के रूप में अपने शुरूआत करेगा। चेन्नई के जवाहर लाल नेहरू इंडोर स्टेडियम में शतरंज ओलंपियाड का उदघाटन समारोह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और तमिलनाडू के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन की मौजूदगी मे होगा जहां 188 देशो के खिलाड़ी और आधिकारी शिरकत करेंगे । शतरंज में पिछले बार की स्वर्ण और रजत पदक विजेता टीम रूस और चीन इस बार शतरंज ओलिम्पियाड में भाग नहीं ले रहे हैं और इसके चलते भारत को पुरुष वर्ग में दूसरी तो महिला वर्ग में पहली वरीयता मिली है । मेजबान होने के चलते भारत पुरुष और महिला वर्ग में 3-3 टीमें उतारेगा भारत की बी टीम को 11वीं तो सी टीम को 16 वीं वरीयता मिली है ।

5 बार के विश्व चैम्पियन और दिग्गज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद इस बार टीम में खिलाड़ी की जगह मार्गदर्शक (मेंटोर) के रूप में अपनी भूमिका निभाएंगे जबकि श्रीनाथ नारायनन टीम के कोच और कप्तान है । भारतीय ए टीम में विदित गुजराती, पी. हरिकृष्णा, अर्जुन एरिगासी , एस.एल. नारायणन और कृष्णन शशिकिरण को शामिल किया गया है ।

प्रतियोगिता में शीर्ष वरीयता यूएसए की टीम को दी गयी है जबकि विश्व चैम्पियन मैगनस कार्लसन की अगुवाई वाली नॉर्वे को तीसरी वरीयता मिली है । भारत को इन टीम के अलावा नीदरलैंड , स्पेन ,अजरबैजान और पोलैंड जैसी टीमों से चुनौती मिलेगी ।

PunjabKesari

महिला वर्ग में भारत को शीर्ष वरीयता मिली है भारत की ए टीम कोनेरु हम्पी के नेत्तृत्व में खेलेगी उनके अलावा द्रोणावल्ली हरिका, आर. वैशाली, तानिया सचदेव और भक्ति कुलकर्णी पर सबको स्वर्ण पदक की उम्मीद रहेगी ।

भारत-बी टीम में युवा खिलाड़ी शामिल हैं जिनके कोच आर.बी. रमेश हैं। भारत-बी टीम को 11वीं वरीयता दी गई है और उसे छुपा रुस्तम माना जा रहा है। शतरंज ओलिम्पियाड में इस बार ओपन वर्ग में रिकॉर्ड 188 टीमें और महिला वर्ग में 162 टीमें भाग लेंगी।

भारत ने नॉर्वे के ट्रॉमसो में 2014 में खेले गए ओलिम्पियाड में ओपन वर्ग में कांस्य पदक जीता था जबकि 2020 के ऑनलाइन ओलिम्पियाड में वह रूस के साथ संयुक्त विजेता रहा था। भारत ने 2021 में कांस्य पदक हासिल किया था। भारत के पास अब फिर से सोने का तमगा जीतने का स्वर्णिम अवसर रहेगा।

भारतीय टीमें

 

पुरुष-ए टीम : विदित एस. गुजराती, पी. हरिकृष्णा, अर्जुन एरिगैसी, एस.एल. नारायणन, के. शशिकिरन।

 

पुरुष-बी टीम : निहाल सरीन, डी. गुकेश, आर. प्रज्ञाननंदा, बी. अधिबान, रौनक साधवानी।

 

पुरुष-सी टीम : सूर्य शेखर गांगुली, एस.पी. सेथुरमन, अभिजीत गुप्ता, कार्तिकेयन मुरली, अभिमन्यु पुराणिक।

 

महिला-ए टीम : कोनेरू हम्पी, डी. हरिका, आर. वैशाली, तानिया सचदेव, भक्ति कुलकर्णी।

 

महिला-बी टीम : वंतिका अग्रवाल, सौम्या स्वामीनाथन, मैरी एन. गोम्स, पद्मिनी राऊत, दिव्या देशमुख।

 

महिला-सी टीम : ईशा करवड़े, साहिती वार्शिनी, प्रत्युषा बोड्डा, पी.वी. नंदिधा, विश्व वासनावा।

.
.
.
.
.