Sports

मुंबई : तोक्यो ओलंपिक क्वालीफिकेशन की तैयारी कर रहे रोअर सहित कुल 35 भारतीय रोइंग खिलाड़ियों को कोविड-19 का दूसरा टीका लगा जिससे वे देश में पूर्ण टीकाकरण लगवाने वाला देश का पहला खेल समूह बना। पुणे के सेना खेल संस्थान (एएसआई) में शनिवार को 35 रोइंग खिलाड़ियों के अलावा कुछ कोचों और अन्य सहयोगी स्टाफ को भी दूसरा कोविड टीका लगा। भारतीय रोइंग संघ की अध्यक्ष राजलक्ष्मी सिंह देव ने बताया, ‘‘35 रोइंग खिलाड़ियों के अलावा कुछ कोचों और एएसआई पुणे के सहयोगी स्टाफ को शनिवार को दूसरा टीका लगा।

इन 35 खिलाड़ियों में वे खिलाड़ी भी शामिल हैं जिन्हें तोक्यो में पांच से सात मई तक होने वाली विश्व रोइंग एशिया ओसियाना महाद्वीपीय क्वालीफिकेशन रेगाटा स्पर्धा में हिस्सा लेने के लिए चुना गया है। राजलक्ष्मी ने उम्मीद जताई कि भारतीय रोअर 23 जुलाई से आठ अगस्त तक होने वाले तोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने में सफल रहेंगे। हमें उम्मीद हैं कि हमारी दो नाव ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करेंगी, हमें तोक्यो में होने वाली इस स्पर्धा से क्वालीफाई करने की उम्मीद है। रियो ओलंपिक 2016 के लिए सिर्फ दत्तु बब्बन भोकानल ने पुरुष एकल स्कल्स में क्वालीफाई किया था और 13वें स्थान पर रहे थे। 

भोकानल ने 2018 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। एएसआई पुणे में ट्रेनिंग कर रहे और ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके भारतीय तीरंदाजों को भी कोविड-19 का पहला टीका लग चुका है और उन्हें दूसरा टीका अगले हफ्ते लगेगा जिसके बाद वे 19 अप्रैल से गुआटेमाला सिटी में होने वाले विश्व कप चरण एक में हिस्सा लेने के लिए रवाना होंगे। टीकाकरण अभियान के तहत आठ शीर्ष भारतीय तीरंदाजों अतनु दास, तरूणदीप राय, प्रवीण जाधव और बी धीरज (रिजर्व), दीपिका कुमारी, अंकित भकत, कोमोलिका बारी और मधु वेदवान (रिजर्व) सहित अन्य तीरंदाजों को टीके लग चुके हैं। भारतीय सीनियर दल में शामिल कोचों और सहयोगी स्टाफ सहित सभी 16 सदस्यों को पहला टीका लग चुका है।
 

.
.
.
.
.