Sports
मुंबई, 14 सितंबर (भाषा) भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) 17 अक्टूबर को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की दो नयी टीमों के लिये सीलबंद लिफाफों में बोली पर फैसला करने की योजना बना रहा है और टीमों को खरीदने के लिये पांच अक्टूबर तक यह बोली जमा की जा सकती है।

इस योजना से जुड़े सूत्र ने मंगलवार को पीटीआई से कहा, ‘‘बोर्ड 17 अक्टूबर को बोली लगाने की योजना बना रहा है और यह बोली सीलबंद लिफाफों में होगी। ’’
बीसीसीआई ने आईपीएल फ्रेंचाइजी की बोली लगाने के लिये 31 अगस्त को निविदा जारी की थी। निविदा पांच अक्टूबर तक जमा की जा सकती है।

बोर्ड ने बयान में कहा था, ‘‘आईपीएल की संचालन परिषद आईपीएल 2022 सत्र से इंडियन प्रीमियर लीग में हिस्सा लेने के लिए प्रस्तावित दो नई टीमों में से एक का स्वामित्व और संचालन का अधिकार हासिल करने के लिए निविदा प्रक्रिया के जरिए बोली आमंत्रित करती है। ’’
इसमें कहा गया था, ‘‘कोई भी इच्छुक पक्ष जो बोली जमा कराना चाहता है उसे निविदा आमंत्रण खरीदना होगा। हालांकि निविदा आमंत्रण में लिखित पात्रता को पूरा करने वाले और अन्य नियमों और शर्तों को पूरा करने वाले बोली के पात्र होंगे। स्पष्ट किया जाता है कि सिर्फ निविदा आमंत्रण को खरीदने से कोई व्यक्ति बोली लगाने का पात्र नहीं होगा।’’
नयी टीमों जो आधार स्थल होंगे उनमें अहमदाबाद, लखनऊ और पुणे भी शामिल हैं। अहमदाबाद का नरेंद्र मोदी स्टेडियम और लखनऊ का इकाना स्टेडियम फ्रेंचाइजी की पसंद हो सकते हैं क्योंकि इन स्टेडियमों की क्षमता अधिक है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।
.
.
.
.
.