Sports
नयी दिल्ली, 12 अक्टूबर (भाषा) भारतीय हॉकी टीम के डिफेंडर सुरेंदर कुमार ने कहा कि कोविड-19 से संक्रमित होने के बाद उससे बाहर निकलने का दौर मानसिक तौर पर चुनौतीपूर्ण रहा लेकिन अब वह इससे पूरी तरह उबर चुके हैं और जल्द से जल्द पूर्ण फिटनेस हासिल करना चाहते हैं।
सुरिंदर उन छह हॉकी खिलाड़ियों में शामिल थे जिन्हें अगस्त में बेंगलुरू में राष्ट्रीय शिविर में वापसी पर इस घातक वायरस से संक्रमित पाया गया था। इन खिलाड़ियों में कप्तान मनप्रीत सिंह भी शामिल थे।
उन्होंने कहा, ‘‘मुझसे हमेशा कहा जाता रहा कि विश्व भर में कई लोग इस वायरस से जूझ रहे हैं जिनमें कई खिलाड़ी भी शामिल हैं और मुझे इससे उबरना होगा। यह बेहद मुश्किल दौर था। ’’
रियो ओलंपिक 2016 में खेल चुके करनाल के इस डिफेंडर ने कहा, ‘‘कोचिंग स्टाफ ने यह सुनिश्चित किया कि हम उन दो तीन सप्ताह में मानसिक तौर पर अच्छी स्थिति में रहें जब हम अस्तपाल और फिर पृथकवास पर थे। ’’
सुरेंदर के पॉजीटिव पाये गये अन्य साथी जल्दी इस बीमारी से उबर गये थे लेकिन उन्हें कोविड-19 से जुड़ी कई जटिलताओं से जूझना पड़ा था।
वायरस से पूरी तरह उबरने के बाद सुरेंदर सितंबर में मैदान पर लौटे और अब वह जल्द से जल्द पूर्ण फिटनेस हासिल करने को प्रतिबद्ध हैं।
उन्होंने कहा, ‘‘मैं टीम के साथ वापस अभ्यास में लौटकर खुश हूं। मुझे अभ्यास पर लौटे हुए तीन सप्ताह हो गये हैं और मैं अच्छा महसूस कर रहा हूं और मेरा लक्ष्य पूर्ण फिटनेस हासिल करना है।’’



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।
.
.
.
.
.